Monday , January 17 2022

80 लाख दिहाड़ी मजदूरों को ₹1000 देगी योगी सरकार, कोरोना से राहत दिलाने के लिए मनी एट होम योजना

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूपी में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई में बड़ी घोषणा कर सकते हैं। मीडिया खबरों के अनुसार कोरोना के चलते मंदी की आशंकाओं के मद्देनजर योगी सरकार प्रदेश के 80 लाख श्रमिकों को बड़ी राहत देने जा रही है। जानकारों के अनुसार सरकार दिहाड़ी मजदूरों के लिए ‘मनी एट होम’ योजना लाने जा रही है। इस योजना के अंतर्गत कोरोना वायरस के कारण प्रभावित दिहाड़ी मजदूरों के बैंक खातों में 1000-1000 रुपए की राशि डाली जाएगी।

पिछले मंगलवार को यूपी कैबिनेट की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस से लड़ने को लेकर प्रदेश सरकार की तैयारियों की समीक्षा की थी। बैठक के बाद उन्होंने प्रदेश के दिहाड़ी मजदूरों के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई थी। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। जानकारों के अनुसार आज योगी इस पर फैसला ले सकते हैं।

Yogi Adityanath

@myogiadityanath

कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव के चलते दिहाड़ी मजदूर भाई-बहनों को परिवार के भरण-पोषण में समस्या न हो, इस हेतु प्रदेश सरकार ने एक तय धनराशि मजदूर भाई-बहनों के बैंक खाते में प्रदान करने का निर्णय लिया है।
इस संबंध में वित्तमंत्री की अध्यक्षता में गठित समिति 3 दिन में रिपोर्ट सौंपेगी।

23.4K people are talking about this

प्रदेश के श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों की संख्या 20 लाख से ज्यादा है, तो वहीं नजर विकास विभाग के 16 लाख दिहाड़ी सफाई कर्मचारी और 58,000 से ज्यादा ग्रामसभाओं में से प्रत्येक से 20-20 मजदूर इस योजना के अंतर्गत लिए जाएँगे। यह कुल संख्या 80 लाख के नजदीक बैठेगी। इसके अलावा योगी सरकार ने पिछले दिनों प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वालों की जाँच और इलाज मुफ्त में करने का भी ऐलान किया था। साथ ही यह भी घोषणा की थी कि इलाज हेतु लिए गए अवकाश के दौरान उनके वेतन में कोई कटौती नहीं की जाएगी।

Yogi Adityanath

@myogiadityanath

किसी कारणवश यदि हमारा कोई साथी कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाता है तो आपकी सरकार उनकी मुफ्त जांच और इलाज कराएगी।

इसके साथ ही यह भी तय किया गया है कि इलाज हेतु लिए गए अवकाश के दौरान उनके वेतन में कोई कटौती नहीं की जाएगी।

10.8K people are talking about this

गौरतलब है कि मंगलवार को हुई बैठक में यूपी के सभी पर्यटक स्थल 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया गया है। इस दौरान कहा गया कि पर्यटक स्थल सिर्फ साफ-सफाई के लिए खुलेंगे। तहसील दिवस व जनता दर्शन भी 2 अप्रैल तक नहीं होंगे। सभी स्कूल-कॉलेजों और मल्टीप्लेक्स 2 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं। इसके अलावा सभी स्कूल-कॉलेजों में चल रही परीक्षाओं को स्थगित करने का आदेश जारी हुआ है। बता दें, इस समय उत्तर प्रदेश में कोरोना के पीड़ित मरीजों की संख्या 13 है, जिसमें से 12 भारतीय और 1 विदेशी नागरिक हैं। इसमें से चार लोग कोरोना से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति