Monday , January 24 2022

दिल्ली का वो अस्पताल जहाँ कोरोना संभावित 174 मरीज में से 163 निजामुद्दीन वाले: सरकार दर्ज कराएगी FIR

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में मरकज तबलीगी जमात के मुख्यालय में 200 से ज्यादा लोगों के कोरोना संदिग्ध पाए जाने से हड़कंप मच गया है। दिल्ली सरकार ने मरकज के मौलाना के खिलाफ फौरन मुकदमा दर्ज करने को कहा है। उन पर आरोप है कि देश में लॉकडाउन होने के बाद भी उन्होंने इतना बड़ा धार्मिक आयोजन कराया। साथ ही इसके लिए उन्होंने कोई अनुमति भी नहीं ली थी।

ANI

@ANI

On 24th March,a notice was issued by SHO P.S. Hazrat Nizamuddin, seeking closure of Markaz premises. It was responded on 24th March, stating that compliance of directions regarding closure of Markaz is underway & around 1500 people had departed previous day…: Markaz, Delhi(1/3)

652 people are talking about this

दिल्ली मरकज की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि 24 मार्च को हजरत निज़ामुद्दीन थाने के SHO ने मरकज़ परिसर को बंद करने की माँग करते हुए एक नोटिस जारी किया था। 24 मार्च को इसका जवाब आया, जिसमें कहा गया कि मरकज़ को बंद करने के निर्देशों का पालन चल रहा है और पिछले दिन लगभग 1500 लोग वापिस भेज दिए गए हैं।

ANI

@ANI

On 24th March,a notice was issued by SHO P.S. Hazrat Nizamuddin, seeking closure of Markaz premises. It was responded on 24th March, stating that compliance of directions regarding closure of Markaz is underway & around 1500 people had departed previous day…: Markaz, Delhi(1/3)

ANI

@ANI

…thus leaving around 1000 visitors of different states & nationalities in Markaz. It was also informed that Ld. SDM concerned had been requested to issue vehicle passes so that remaining people could be sent back to their native places outside of Delhi: Markaz, Delhi (2/3)

212 people are talking about this

इसके बाद मरकज़ में विभिन्न राज्यों और देशों के लगभग 1000 विजिटर्स बच गए थे। यह भी बताया गया कि Ld. SDM को लोगों को उनके मूल स्थानों पर वापस भेजने के लिए वाहन के पास देने का अनुरोध किया गया था।

ANI

@ANI

…thus leaving around 1000 visitors of different states & nationalities in Markaz. It was also informed that Ld. SDM concerned had been requested to issue vehicle passes so that remaining people could be sent back to their native places outside of Delhi: Markaz, Delhi (2/3)

ANI

@ANI

List of 17 vehicles with registration numbers along with names of drivers plus their license details were submitted to Ld. SDM so that stranded visitors/guests could be ferried towards their destination. The requisite permission is still awaited: Statement of Markaz, Delhi (3/3)

207 people are talking about this

17 वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर के साथ एक लिस्ट और ड्राइवरों के लाइसेंस का विवरण Ld. SDM को भेजा गया, ताकि फँसे हुए विजिटर्स को उनके मूल स्थान भेजा जा सके।

बताया जा रहा है कि इस मजहबी आयोजन में लगभग 300-400 लोग शामिल हुए थे। कोरोना संक्रमित होने की संभावना के बाद यहाँ मौजूद 163 लोगों को दिल्ली के लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल की ओर से कहा गया है कि उनके यहाँ कोरोना संक्रमण की संभावना वाले 174 मरीज भर्ती हैं, जिसमें से 163 निजामुद्दीन से ही आए हैं।

ANI

@ANI

has spread among some of those who attended a religious prayer meeting from 13th to 15th March at Markaz in the Nizamuddin area of Delhi. Among those, who attended were some persons from Telangana. Of them, six died: Telangana Chief Minister’s Office

View image on Twitter
2,750 people are talking about this

Telangana CMO

@TelanganaCMO

Six people from Telangana who attended a religious congregation at Markaz in Nizamuddin area of New Delhi from 13-15 March succumbed after they contracted . Two died in Gandhi Hospital while one each died in Apollo Hospital, Global Hospital, Nizamabad and Gadwal

2,647 people are talking about this

बता दें कि इसमें शामिल होने वाले तेलंगाना के 6 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो गई। तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से इस संबंध में बयान जारी करते हुए कहा गया है कि जिन लोगों ने 13 से 15 मार्च के बीच निजामुद्दीन इलाके के मरकज में मजहबी प्रार्थना सभा में भाग लिया था, उनमें से कुछ लोगों के बीच कोरोना वायरस का संक्रमण फैल गया है। इस मजहबी सभा में शामिल होने वालों में कुछ लोग तेलंगाना के भी थे, उनमें से 6 लोगों की मृत्यु हो गई।

ANI

@ANI

Delhi Government to ask police to register FIR against Maulana of Markaz, Nizamuddin: Delhi Govt

Around 300-400 people had attended a religious gathering at Markaz & 163 people from Nizamuddin, likely to be infected with , have been admitted to Lok Nayak Hospital, Delhi.

View image on Twitter

ANI

@ANI

It has come to our knowledge that administrators of Nizammuddin Markaz violated conditions&now several positive cases have been found. Strong action would be taken against those in charge of this establishment: Delhi Government

824 people are talking about this

इधर दिल्ली सरकार ने भी इस पर संज्ञान लेते हुए मरकज के मौलाना के खिलाफ कड़ी कारर्वाई का निर्देश देते हुए कहा कि निजामुद्दीन मरकज के प्रशासकों ने कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू लॉकडाउन की शर्तों का उल्लंघन किया और अब इसमें से कई लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

ANI

@ANI

Delhi: People continue to board buses in the Nizammudin area, to be taken to different hospitals for a checkup. A religious gathering was held in Markaz, that violated lockdown conditions and several positive cases have been found among those who attended the gathering.

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
3,835 people are talking about this

निजामुद्दीन मामले को लेकर दिल्ली सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि 24 मार्च को पूरे देश में कोरोना की वजह से लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। इसके बाद होटल, गेस्टहाउस, हॉस्टल और इस तरह के प्रतिष्ठानों के मालिक और प्रशासकों की यह जिम्मेदारी थी कि वह सोशल डिस्टेंशिंग का पूरी तरफ पालन करें। ऐसा लगता है कि यहां इसका पालन नहीं किया जा रहा था। यहाँ प्रशासकों ने कोरोना को लेकर जारी की गई गाइडलाइन का उल्लंघन किया और कोरोना पॉजिटिव रोगियों के कई मामले यहाँ पाए गए हैं। इस प्रतिष्ठान के प्रभारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। लापरवाही के इस घिनौने कृत्य से कई जीवन खतरे में पड़ गए हैं। लॉकडाउन के दौरान लोगों का इस तरह के जमावड़े से बचना हर नागरिक की जिम्मेदारी थी और यह एक आपराधिक कृत्य के अलावा और कुछ नहीं है।

दिल्ली सरकार की तरफ से कहा गया है जब उन्हें केंद्र की तरफ से पहले कोरोना पॉजीटिव केस के बारे में बताया गया था और सहयोग के लिए कहा गया था, तभी उन्होंने उन सभी मरीजों को, जिनमें इस वायरस के लक्षण देखे गए उसे हॉस्पिटल में एडमिट किया गया और साथ ही जिनमें ये लक्षण नहीं पाए गए, उन्हें भी क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया।

मामला सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन इलाके में स्थित मस्जिद के आसपास के इलाके को खाली करा लिया है। यह मस्जिद निजामुद्दीन दरगाह के पास है। इसके अलावा यहाँ ड्रोन के माध्यम से निगरानी की जा रही है। दिल्ली पुलिस ने मजहबी कार्यक्रम आयोजित करने के मामले में आयोजकों को नोटिस जारी किया है। साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी आरपी मीणा ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस मामले की जाँच की जा रही है। जरूरत पड़ने पर पुलिस इनके खिलाफ एक्शन लेगी और FIR दर्ज कर सकती है।

ANI

@ANI

We have served notices for holding a religious gathering here (in Nizamuddin) during . We are examining the matter. Action will be taken if required and then FIR will be filed immediately: RP Meena, DCP South East. https://twitter.com/ANI/status/1244607391280148480 

View image on Twitter
ANI

@ANI

Delhi Police team, including Joint CP DC Srivastava, reaches Nizamuddin area after there were reports that some people, who had attended a religious gathering at Markaz in Nizamuddin, have tested positive for #COVID19. Batches of ppl being taken to hospital in buses for checkup.

View image on Twitter
View image on Twitter
View image on Twitter
View image on Twitter
672 people are talking about this

निजामुद्दीन के मरकज में मजहबी कार्यक्रम में आए कुछ लोगों के कोरोना पॉजिटिव मिलने की खबर के बाद दिल्ली पुलिस की टीम वहाँ पहुँची। वहाँ दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट CP डीसी श्रीवास्तव भी मौजूद थे। यहाँ से कई लोगों को जाँच के लिए दिल्ली के अलग-अलग हॉस्पिटल ले जाया गया। मौके पर दिल्ली स्वास्थ्य अधिकारियों की टीम भी पहुँची थी, जिन्होंने रिपोर्ट दी थी कि इलाके में कुछ लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दिए हैं। बता दें कि निजामुद्दीन स्थित मरकज इस्लाम की शिक्षा का प्रचार-प्रसार करने वाला विश्व का सबसे बड़ा केंद्र है, जहाँ काफी देशों के लोग आते-जाते रहते हैं।

ANI

@ANI

Delhi Health Department team at Nizamuddin after reports that some people in the area have developed coronavirus symptoms. https://twitter.com/ANI/status/1244577692533452801 

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
ANI

@ANI

Y’day, we provided a list of names to Administration, who had any health issue, including cold&fever. Some of them have been admitted in hospital on basis of age/travel history.We don’t have any confirmed #COVID19 case till now:Dr Mohd. Shoaib,Spokesperson,Nizamuddin Markaz,Delhi

View image on Twitter
400 people are talking about this

प्रशासन ने दिल्ली में उन मरीजों की जानकारी इकट्ठा की है, जिन्हें ठंड लगने या बुखार की समस्या हुई हो। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज ने इससे संबंधित लिस्ट अधिकारियों को सौंपी है। निजामुद्दीन मरकज के प्रवक्ता मोहम्मद शोएब ने बताया कि यह लिस्ट प्रशासन को दी गई। इनमें से कई लोगों को उम्र के कारण और बाहर की यात्रा से लौटने के बाद हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। उनका कहना है कि इनमें से किसी के भी कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि नहीं हुई है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति