Monday , November 29 2021

गहना वशिष्ठ को पूछताछ के लिए मुंबई पुलिस ने बुलाया, कहा था – राज कुंद्रा वाले ऐप में पॉर्न फिल्में नहीं

राज कुंद्रा पोर्नोग्राफी मामले में मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच की प्रॉपर्टी सेल ने रविवार (जुुलाई 24, 2021) को ऐक्ट्रेस-मॉडल गहना वशिष्ठ समेत 3 लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया है। मुंबई पुलिस ने बताया कि आज पूछताछ के लिए 3 लोगों को समन किया गया है।

इससे पहले शुक्रवार (जुलाई 23, 2021) को राज कुंद्रा की पत्नी ऐक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी से भी क्राइम ब्रांच ने 6 घंटे तक पूछताछ की थी। गहना वशिष्ठ भी राज कुंद्रा के ऐप हॉटशॉट के लिए बनीं कई फिल्म और वेब सीरीज में काम कर चुकी हैं। गहना ने भी दावा किया है कि इस ऐप पर पॉर्न नहीं बल्कि इरॉटिक कैटेगरी का कंटेंट मौजूद हैं।

गहना वश‍िष्ठ शुरू से ही इस मामले में राज कुंद्रा और श‍िल्पा शेट्टी को सपोर्ट करती आ रही हैं। उनका कहना है कि राज कुंद्रा ने पोर्न नहीं बल्कि बोल्ड एंड एरॉट‍िक फिल्में बनाई हैं। गहना ने एक इंटरव्यू में शनिवार को कहा था, “शिल्पा सही कह रही हैं। हॉटशॉट्स ऐप पर ऐसा कोई कंटेंट नहीं है, जिसे पोर्नोग्राफी की श्रेणी में रखा जाए। कोई ऐसे मामले से कैसे कनेक्ट हो सकता है जो असल में है ही नहीं। मुझे लगता है कि शिल्पा ने जो बयान दिया है, वह एकदम ठीक है। जहाँ तक मुझे पता है, हॉटशॉट्स ऐप पर किसी भी तरह का पोर्न कॉन्टेंट नहीं है। उस पर सिर्फ बोल्ड, इरॉटिक और हॉट फिल्म्स हैं, पोर्न नहीं।”

गहना लगातार कर रही हैं राज कुंद्रा का बचाव

बता दें कि मुंबई पुलिस ने फरवरी में एक्ट्रेस गहना वशिष्ठ सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया था। इस मामले में गहना के खिलाफ FIR भी हुई थी, जिसमें उन्हें कथित तौर पर एक्टर्स को अश्लील फिल्म के लिए न्यूड सीन शूट करने के लिए मजबूर करने के मामले में आरोपित बनाया गया था। फिलहाल वह जमानत पर बाहर है। यहीं से पुलिस को हॉटशॉट जैसे पेड मोबाइल एप्लीकेशन की जानकारी मिली थी। पुलिस ने हाल ही में मामले से जुड़े एक और शख्स उमेश कामत को गिरफ्तार किया था। कामत की गिरफ्तारी के बाद पुलिस राज कुंद्रा के इस रैकेट तक पहुँच पाई।

ऐप के कंटेंट को पोर्न नहीं मानती गहना

गहना ने अपनी गिरफ्तारी पर भी कहा था कि उन्हें जान-बूझकर फँसाया गया है। गहना के मुताबिक डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर कोई सेंसरशिप नहीं है, लोग जो चाहें वो बना सकते हैं। गहना का कहना है कि इस ऐप के लिए जो वीडियो बने हैं, उन्हें पॉर्न नहीं कह सकते हैं। अन्य ओटीटी प्लेटफॉर्म्स भी इस तरह का कंटेंट बना रहे हैं सिर्फ राज कुंद्रा को टार्गेट क्यों किया जा रहा है?

उल्लेखनीय है कि पोर्न केस में 19 जुलाई को गिरफ्तार हुए राज कुंद्रा की पुलिस हिरासत 23 जुलाई तक थी। लेकिन कोर्ट ने पुलिस रिमांड को 27 जुलाई तक कर दिया। कुंद्रा के साथ रायन की भी पुलिस कस्टडी बढ़ाई गई है। मुंबई पुलिस को शक है कि राज ने पोर्नोग्राफी से कमाए गए पैसों का इस्तेमाल ऑनलाइन सट्टेबाजी के लिए किया था। इसलिए राज कुंद्रा के यस बैंक के खाते और यूनाइटेड बैंक ऑफ अफ्रीका के खाते के बीच की लेनदेन की जाँच की जानी चाहिए।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति