Tuesday , September 28 2021

मंदिर में इस्लामी कट्टरपंथियों ने भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ा, जलाया भी – पाकिस्तान से वीडियो वायरल

पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। आए दिन हिंदू धर्म स्थलों को निशाना बनाया जा रहा है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवादी हिंदुओं के मंदिर में घुसकर भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ते हुए नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने मंदिर में लगे झूमर, घंटे को भी तहस-नहस कर दिया और मंदिर परिसर को भी काफी नुकसान पहुँचाया।

इस वीडियो को पाकिस्तान में ‘द राइज न्यूज’ की पत्रकार और संस्थापक संपादक वींगास (Veengas) ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। यह घटना पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहीमयार खान के पास स्थित भोंग शहर की है। उन्होंने लिखा, “पंजाब के रहीमयार खान के गाँव भोंग के गणेश मंदिर में तोड़फोड़ की गई है। एक बार फिर पाकिस्तान में हिंदुओं पर हमला किया गया।”

बताया जा रहा है कि इन आतंकियों ने पहले गणेश मंदिर में भगवान की मूर्तियों को पत्थर मारकर, लकड़ी के लट्ठ से मारकर तोड़ा। फिर इसके बाद पाकिस्‍तानी कट्टरपंथ‍ियों ने इस पूरी घटना को फेसबुक पर लाइव भी किया। वो यही नहीं रुके। घटना को अंजाम देने के बाद उन्होंने मंदिर को आग के हवाले कर दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब स्‍थानीय लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस में की,तो उन्होंने हिंदुओं की बात पर कोई ध्‍यान नहीं दिया। इसके बाद पाकिस्तान में अल्‍पसंख्‍यक समुदाय ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस से हस्‍तक्षेप की गुहार लगाई है।

पाकिस्‍तान के हिंदू परिषद के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर रमेश वानकानी ने बताया, ”पंजाब प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोंग शहर में हिंदू मंदिर में कट्टरपंथियों ने हमला किया है। इसके चलते इलाके में बुधवार को हालात तनावपूर्ण हो गए थे।” वानकानी ने बताया कि स्‍थानीय पुलिस हिंदुओं का ध्‍यान नहीं रख रही है, जो बेहद शर्मनाक है। सुप्रीम कोर्ट के मुख्‍य न्‍यायाधीश से अनुरोध किया गया है कि वे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें।

मामला तूल पकड़ने के बाद जाँच करने के लिए उपायुक्त डॉ. खुरम शहजाद भोंग शरीफ गणेश मंदिर पहुँचे। लेकिन अभी तक इस मामले में किसी भी कट्टरपंथी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं, इस घटना के बाद पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय में खासा रोष है। इमरान खान की पार्टी के नेता जय कुमार धीरानी ने घटना की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की माँग की है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भले ही यह दावा करते हुए नहीं थकते हो कि वह अपने देश में अल्पसंख्यकों को सुरक्षा दे रहे हैं। अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मस्थलों के रख-रखाव के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं, लेकिन सच्चाई इससे कोसों दूर है। पाकिस्तान में लगातार हिंदुओं को निशाना बनाया जा रहा है। आए दिन हिंदू धर्म स्थलों को तोड़ने की खबरें आती रहती हैं। इसके बावजूद इमरान खान का इन सभी घटनाओं पर चुप्पी साधे रहना पाकिस्तान के चेहरे ​को बेनकाब करता है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति