Tuesday , September 28 2021

11 साल पहले इरफान के लिए रिजवाना बनी थी अंतिमा शेखावत, अब बीच सड़क चाकुओं से गोद डाला

राजस्थान के कोटा के दादाबाड़ी इलाके में अंतरधार्मिक विवाह के 11 साल बाद समुदाय विशेष के युवक ने अपनी 27 वर्षीय बीवी की बीच सड़क पर चाकू घोंप कर हत्या कर दी। घटना बुधवार (अगस्त 18, 2021) शाम की है। पुलिस आरोपित को आज (अगस्त 19, 2021) सुबह गिरफ्तार कर चुकी है। मृतक की बहन ने दावा किया है कि इरफान नामक युवक उसकी बहन अंतिमा शेखावत उर्फ रिजवाना को शादी करके प्रताड़ित कर रहा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 11 साल पहले विज्ञान नगर निवासी अंतिमा शेखावत ने घर से भाग कर इरफान से निकाह किया था। बाद में उसका नाम रिजवाना हो गया। दोनों के तीन बच्चे हुए। लेकिन, कुछ समय बाद इरफान उससे मारपीट करके उसे तंग करने लगा। रोज-रोज झगड़े से तंग आकर 2 माह पहले ही अंतिमा उर्फ रिजवाना ने इरफान से अलग रहने का फैसला किया और तलाक फाइल करके बालाकुण्ड इलाके में किराए पर रहने लगी।

बुधवार को जब अंतिमा अपनी बहन के घर दादाबाड़ी गई तो वहाँ से अपनी 12 साल की भतीजी को लेकर किसी काम से बाहर निकली। इसी दौरान इरफान स्कूटी से आया और किराने की दुकान के सामने उसने चाकू से उस पर हमला कर दिया। खून से लथपथ अंतिमा वहीं पर गिर गई। इरफान ने उसके गले और छाती पर चाकू घोंपा। इस घटना में अंतिमा के साथ खड़ी बच्ची के हाथ पर भी चोटें आईं। आनन-फानन में उन्हें पास के अस्पातल ले जाया गया लेकिन वहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत करार दे दिया।

अंतिमा की बहन अनीता बताती हैं कि 2 महीने पहले भी इरफान ने उसके सिर पर बल्ले से मारा था, जिसके कारण उसके सिर पर काफी चोटें आईं। इसके अलावा वह उस पर बीड़ी सिगरेट फेंकता था, उसके शरीर पर काफी जलने के निशान थे। अनीता के मुताबिक अंतिमा को इरफान इतनी बुरी तरह पीटता था कि उसके दाँत भी टूट गए थे। इतना ही नहीं दो साल पहले तो इरफान ने अंतिमा को गोवा में 1.2 लाख रुपए में बेचने की कोशिश भी की थी। लेकिन तब उसने इरफान को माफ कर दिया और उसके साथ रहना जारी रखा।

जानकारी के मुताबिक, अंतिमा 10 बहनों में 9वें नंबर पर थीं। 17 साल की उम्र में उसने इरफान से शादी की थी। घटना को लेकर अनीता कहती हैं, “अंतिमा नाबालिग थी इसलिए चंगुल में फँस गई। जब वह भागी थी तो हम दुखी थे। हम क्या करते हमारी बहन थी। हमने उसे गले लगा लिया था। पैसे भी देते थे, खर्चा भी चलाते थे। इरफान, उसको परेशान करता था और बहनों से पैसे लाने के लिए दबाव डालता था। फिर भी वह उसके साथ ही रही।”

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति