Tuesday , October 19 2021

PM मोदी बोले- रिकॉर्ड टीकाकरण के बाद एक पार्टी को आ गया बुखार, डॉक्टरों से पूछे साइड इफेक्ट्स के कारण

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के मौके पर भारत में कल यानी 17 सितंबर को 2.5 करोड़ वैक्सीन की खुराक दी गई। एक नया रिकॉर्ड स्थापित करने के एक दिन बाद, पीएम मोदी ने शनिवार की सुबह एक आभासी बातचीत के दौरान गोवा के एक स्वास्थ्य कार्यकर्ता से वैक्सीन के दुष्प्रभावों से संबंधित एक प्रश्न पूछा। आपको बता दें कि राहुल गांधी ने कहा है कि आशा करता हूं कि आने वाले दूसरे दिनों में भी हर दिन वैक्सीन की 2.1  खुराक दी जाएगी।

पीएम मोदी ने इस दौरान देश के सभी डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ, प्रशासन से जुड़े लोगों की सराहना की । उन्होंने कहा कि आप सभी के प्रयासों से कल भारत ने एक ही दिन में ढाई करोड़ से भी अधिक लोगों को वैक्सीन देने का रिकॉर्ड बनाया है।

आशा है कि और दिनों में भी टीकों की दो करोड़ से अधिक खुराक दी जाएगी : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर देश में ढाई करोड़ से अधिक टीके लगाये जाने को लेकर शनिवार को कहा कि कोरोना रोधी टीकाकरण की इसी गति की जरूरत है और उम्मीद है कि आने वाले दिनों में भी रोजाना टीकों की दो करोड़ से अधिक खुराक दी जाएगी। उन्होंने ट्वीट किया, ”आशा करता हूं कि और दिनों में भी रोजाना टीकों की 2.1 करोड़ खुराक दी जाएगी। हमारे देश को इसी गति की जरूरत है।”

कल का दिन मेरे लिए भावुक करने वाला
प्रधानमंत्री ने कहा, ”जन्मदिन तो बहुत आए और बहुत गए पर मैं मन से हमेशा इन चीजों से अलिप्त रहा हूं, इन चीजों से मैं दूर रहा हूं। पर मेरी इतनी आयु में कल का दिन मेरे लिए बहुत भावुक कर देने वाला था। कल का दिन मेरे लिए बहुत खास बन गया है। मेडिकल फील्ड के लोग, जो लोग पिछले दो साल से जुटे हुए हैं, अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना से लड़ने में देशवासियों की मदद कर रहे हैं, उन्होंने कल जिस तरह से वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड बनाकर दिखाया है, वो बहुत बड़ी बात है।”

गोवा ने दिखाई बहादुरी
पीएम मोदी ने कहा कि बीते कुछ महीनों में गोवा ने भारी बारिश, साइक्लोन, बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के साथ भी बड़ी बहादुरी से लड़ाई लड़ी है। इन प्राकृतिक चुनौतियों के बीच कोरोना टीकाकरण की रफ्तार को बनाए रखने के लिए सभी कोरोना वॉरियर्स का, स्वास्थ्य कर्मियों का, टीम गोवा का मैं अभिनंदन करता हूं। सामाजिक और भौगोलिक चुनौतियों से निपटने के लिए जिस प्रकार का समन्वय गोवा ने दिखाया है, वो सराहनीय है। राज्य के दूर-सुदूर में बसे, केनाकोना सब डिविजन में भी बाकी राज्य की तरह ही तेज़ी से टीकाकरण होना इसका प्रमाण है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति