Tuesday , October 19 2021

‘खौफ बनाते हैं इसलिए मियाँ भाई कहलाते हैं’: सीने में चाकू घोंप सन्नी सिन्हा की हत्या करने वाला मोहम्मद लाडला गिरफ्तार

बिहार के पूर्णिया में 25 वर्षीय युवक की हत्या के मामले में मुख्य आरोपित मोहम्मद लाडला को गिरफ्तार कर लिया गया है। लाडला ने सन्नी सिन्हा नामक युवक की हत्या 13 सितंबर को की थी। लेकिन उसकी गिरफ्तारी अब जाकर हुई है। लाडला ने सन्नी के सीने में चाकू घोंप दिया था। हमले के बाद परिजन सन्नी को अस्पताल ले गए लेकिन उसकी जान नहीं बची।

पुलिस इस मामले में अपनी छानबीन कर रही है। इस बीच उन्हें मोहम्मद लाडला के फेसबुक से कुछ भड़काऊ पोस्ट मिले हैं। आरोपित ने अपने फेसबुक के बायो में लिखा है, “सुन लो RSS, बजरंग दल वालों हम दल नहीं खौफ बनाते हैं इसलिए मियाँ भाई कहलाते हैं।”

लाडला की लिखावट इलाके में तनाव भड़काने वाली थी। उसका मकसद था कि लोगों का ध्यान उस पर से हटे। आरोपित के निशाने पर बीजेपी, बजरंग दल, आरएसएस रहते थे।

जानकारी के अनुसार, मृतक सन्नी सिन्हा पूर्णिया में उज्जवला स्मॉल फाइनेंस बैंक में काम करता था। उसकी हत्या घर से कुछ ही दूरी पर की गई। मामले में सन्नी की माँ ने 14 सितंबर को खजांची हाट थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई। परिवार ने बताया कि 13 सितंबर को उनके घर में छठी कार्यक्रम चल रहा था। लेकिन रात के करीब 9:30 बजे जामा मस्जिद से सटी गली के रहने वाले मोहम्मद लाडला ने उनके बेटे को बुलाया और कुछ कहासुनी के बाद उसकी चाकू मार कर हत्या कर दी गई।

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक, आरोपित और सन्नी के बीच कोई बातचीत हुई और बाद में वह लौट गया। लेकिन कुछ देर बाद वह दोबारा आया और साथ में कई 20-25 साथी भी थे। सबने हंगामा किया। इस बीच जब सन्नी उन लोगों को समझाने गया तो नशे में धुत आरोपित मोहम्मद लाडला ने सन्नी के सीने में चाकू घोंप दिया और सारे फरार हो गए। परिजन तुरंत ही सन्नी को अस्पताल ले गए लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई थी।

बता दें कि इससे पहले खबर आई थी कि सिन्हा की हत्या से पूर्व, स्थानीय लोगों ने लाडला और उसके गिरोह द्वारा किए गए उपद्रव के बारे में स्थानीय पुलिस को अलर्ट कर दिया था। हालाँकि, तब नशे की हालत में पाए गए लाडला को गिरफ्तार करने के बजाय, पुलिस ने उसे चेतावनी देकर जाने दिया।

घटना से आक्रोशित स्थानीय लोगों ने कहा कि सिन्हा की हत्या इसलिए की गई क्योंकि पुलिस ने समय पर और उचित कार्रवाई नहीं की। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि पुलिस संरक्षण में जिले में व्यापक रूप से ड्रग्स की बिक्री की जा रही है। स्थानीय लोगों और विश्व हिंदू परिषद के कई सदस्यों ने पेट्रोलिंग कर रही पुलिस टीमों और यातायात पुलिस पर जबरन वसूली का आरोप लगाया था।

उन्होंने कहा था कि शहर में खुलेआम पुलिस के संरक्षण में नशे का कारोबार किया जा रहा है। पुलिस अवैध उगाही करने में लगी रहती है। टाईगर मोबाइल, गश्ती दल, एवं ट्रैफिक पुलिस नाजायज धन उगाही में लगी रहती है। इस तरह की घटना पर रोक नहीं लगी तो बड़े जन आन्दोलन के लिए विवश होना पड़ेगा।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति