Thursday , October 28 2021

अमेरिका रवाना हो रहे थे पीएम मोदी, तभी आया एक फोन, पूरे विश्‍व में छा गया भारत !

नई दिल्ली। पूरी दुनिया की नजर आज भारत पर है, एक देश जो विकसित देशों से कंधे से कंधा मिलाकर चलने को हरदम तैयार रहता है । तमाम समस्‍याओं के बावजूद मुश्किलों में खड़े होना जानता है । भारत की आज पूरे विश्‍व में अलग ही पहचान है, यहीं वजह है कि दूसरे देश भारत की ओर देखते हैं । मदद के लिए भी हाथ बढ़ाते हैं और साथ भी मांगते हैं । कुछ ऐसा ही हुआ बीते दिन से पहले, मोदी के अमेरिका रवाना होने से पहले उन्‍होंने फ्रांस के राष्ट्रपति से फोन पर बात की ।  फ्रांस के राष्ट्रपति ने इस बातचीत के बाद ट्वीट कर हिंदी में अभिवादन किया।

फ्रांस के राष्‍ट्रपति से हुई विस्‍तृत बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों से फोन पर बातचीत का ब्‍यौरा ट्विटर पर दिया । उन्‍होंने बताया कि भारत-प्रशांत क्षेत्र में भारत और फ्रांस के आपसी सहयोग, अफगानिस्तान संकट, कोरोना महामारी और द्विपक्षीय संबंधों को लेकर चर्चा की । फोन पर हुई इस बातचीत में दोनों नेताओं ने मानव तस्करी और आतंकवाद जैसे मुद्दों पर विशेष ध्यान देते हुए अहम वार्ता की। PM नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने अवैध हथियारों, नशीले पदार्थों के प्रसार के साथ-साथ मानवाधिकारों, अल्पसंख्यकों और महिलाओं के अधिकारों को सुनिश्चित करने के बारे में अपनी चिंताएं व्यक्त की। दोनों नेताओं ने कई मुद्दों पर कड़े कदम लेने पर सहमति रखी।

इमैनुअल मैक्रों ने किया अभिवादन ट्वीट

वहीं पीएम मोदी के ट्वीट के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने ट्वीट किया और भारत के लोगों का हिंदी में अभिवादन किया । राष्ट्रपति ने कहा “नमस्ते, प्रिय साथी, प्रिय मित्र”, हमारी रणनीतिक साझेदारी के महत्व की पुष्टि करने के लिए धन्यवाद. भारत और फ्रांस भारत-प्रशांत को सहयोग और साझा मूल्यों का क्षेत्र बनाने के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध है. हम इस पर निर्माण करना जारी रखेंगे।

फ्रांस की ओर से बयान

आपको बता दें France के राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से कहा गया कि राष्ट्रपति ने COVAX मुहीम के तहत वैक्सीन की डिलीवरी दोबारा शुरू करने के भारत के फैसले का स्वागत किया है। साथ ही राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से ये भी बताया गया कि दोनों देश आने वाले कार्यक्रमों के समन्वय के लिए लगातार संपर्क में रहेंगे और चर्चाएं करेंगे जिसमें जी20 और जलवायु परिवर्तन पर कॉप26 सम्मेलन खास तौर पर शामिल है । वहीं भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर आज से न्यूयॉर्क में फ्रांस के विदेश मंत्री के साथ द्विपक्षीय भी बैठक शुरू करने जा रहे हैं ।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति