Thursday , October 28 2021

मुख्तार से लेकर राजा भैया तक, कोई डॉक्टर तो कोई ठेकेदार, जानिये क्या करती है इन बाहुबलियों की पत्नियां

लखनऊ। यूपी में कई बाहुबली और दबंग छवि के नेता सालों से राजनीति में एक्टिव हैं, इन बाहुबलियों में कोई विधानसभा तो कोई विधान परिषद का सदस्य है, कुछ तो सांसद भी रह चुके हैं, या फिर अभी भी हैं, आइये आपको बताते हैं कि इन बाहुबलियों की पत्नियां क्या करती हैं।

मुख्तार अंसारी

मुख्तार अंसारी इन दिनों योगी सरकार के निशाने पर है, उनके खिलाफ ताबड़तोड़ एक्शन लिया जा रहा है, पूर्वांचल में मुख्तार का काफी प्रभाव माना जाता है, वो 5 बार मऊ विधानसभा सीट से विधायक भी रहे हैं, मुख्तार की पत्नी अफशा अंसारी गृहिणी हैं, वो घर पर रहकर परिवार संभालती हैं।

बृजेश सिंह

बृजेश सिंह मुख्तार अंसारी के जानी दुश्मन हैं, दोनों की अदावत सालों से चली आ रही है, दोनों एक-दूसरे पर कई बार जानलेवा हमला भी कर चुके हैं, बृजेश सिंह के तार मुंबई अंडरवर्ल्ड से भी जुड़े, फिलहाल बृजेश सिंह निर्दलीय एमएलसी हैं, उनकी पत्नी का नाम अन्नपूर्णा सिंह है, वो भी राजनीति में हैं, वाराणसी से जिला पंचायत अध्यक्ष भी रह चुकी हैं।

सुशील सिंह

बृजेश सिंह के भतीजे सुशील सिंह का नाम भी प्रदेश के बाहुबलियों में गिना जाता है, सुशील सिंह की पत्नी किरण सिंह ठेकेदार हैं।

अतीक अहमद
अतीक अहमद प्रयागराज के बाहुबली नेता हैं, प्रदेश के कई जिलों में उनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं, 1996 में अतीक की शादी शाइस्ता परवीन से हुई थी, शाइस्ता प्रयागराज में पति के कारोबार को देखने के साथ ही राजनीति भी करती हैं, फिलहाल वो ओवैसी की पार्टी की सदस्य हैं।

राजा भैया
भदरी रियासत के राजकुमार रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया की गिनती प्रदेश के बाहुबली राजनेताओं में होती है, राजा भैया की शादी भान्वी कुमारी से हुई है, भान्वी बिजनेसवुमन हैं, लखनऊ में उनकी दो फर्म है।

धनंजय सिंह
जौनपुर से पूर्व सांसद बाहुबली नेता धनंजय सिंह ने 3 शादियां की है, उनकी दूसरी पत्नी जागृति सिंह पेशे से डॉक्टर हैं, वो विधानसभा चुनाव भी लड़ चुकी हैं, हालांकि उन्हें हार का सामना करना पड़ा। धनंजय की तीसरी पत्नी श्रीकला रेड्डी हैं, वो बिजनेसवुमन हैं, वो इंटीरियर डिजाइनिंग का काम करती थी, फिलहाल राजनीति में सक्रिय हैं, मौजूदा समय में श्रीकला जौनपुर से जिला पंचायत अध्यक्ष हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति