Thursday , October 28 2021

लखीमपुर में किसानों का हंगामा, 6 की मौत; गोरखपुर दौरा छोड़कर लखनऊ पहुंच रहे CM योगी

लखनऊ। नए कृषि कानूनों (New Farm Law) के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) अब हिंसक होने लगा है. किसानों ने यूपी के लखीमपुर खीरी में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे की दो 2 कारों में आग लगा दी. इस घटना में 6 किसानों की भी मौत की खबर सामने आ रही है. हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.

किसानों ने रोका मंत्री के बेटे का काफिला

जानकारी के मुताबिक यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) रविवार को लखीमपुर खीरी में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के गांव बनवीरपुर जा रहे थे. उन्हें रिसीव करने के लिए अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) काफिले के साथ घर से निकले. उसी दौरान रास्ते में आशीष मिश्रा और उनके साथ चल रही एक गाड़ी को किसानों ने रोक लिया. वे उनसे नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करने लगे.

मंत्री के बेटे ने किसानों पर चढ़ी दी कार

किसानों से बचने के लिए केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) ने ड्राइवर से स्पीड बढ़वाकर भागने की कोशिश की. इसी दौरान कुछ किसान गाड़ी के सामने आ गए, जिसकी वजह से 6 किसानों की मौत हो गई और करीब 8 किसान घायल हो गए. इस घटना के बाद नाराज किसानों ने मंत्री के बेटे की दो गाड़ियों को फूंक दिया. हालांकि इस घटना के बाद भी केशव प्रसाद मौर्य सड़क मार्ग से गांव पहुंचे और वहां एक कुश्ती दंगल का उद्घाटन किया.

केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने जी मीडिया से बातचीत में बताया कि इस घटना में 6 लोगों की मौत हुई है. उन्होंने कहा कि मारे गए लोगों में 4 उनकी पार्टी के कार्यकर्ता हैं. वहीं 2 अन्य लोग हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि उपद्रवियों ने गाड़ियों पर पत्थराव किया और 4 लोगों की  पीट-पीटकर हत्या कर दी. इस घटना को सीएम योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लिया है. वे अपना गोरखपुर का दौरा बीच में छोड़कर लखनऊ वापस लौट रहे हैं. इसके साथ ही एडीजी और दूसरे अफसरों को लखीमपुर में भेजा जा रहा है.

अखिलेश यादव ने की कड़ी आलोचना

इस घटना के बाद प्रदेश में सियासत तेज हो गई है. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीट कर कहा, ‘कृषि कानूनों का शांतिपूर्ण विरोध कर रहे किसानों को गृह राज्यमंत्री के पुत्र द्वारा, गाड़ी से रौंदना घोर अमानवीय और क्रूर कृत्य है. उप्र दंभी भाजपाइयों का ज़ुल्म अब और नहीं सहेगा. यही हाल रहा तो उप्र में भाजपाई न गाड़ी से चल पाएंगे, न उतर पाएंगे.’

लखीमपुर जाएगा SP का प्रतिनिधिमंडल

इस घटना के बाद समाजवादी पार्टी ने अपने एक प्रतिनिधिमंडल को सोमवार को लखीमपुर भेजने की घोषणा की है. पार्टी ने घोषणा की कि प्रतिनिधिमंडल में शामिल नेता पीड़ित किसानों से मिलकर घटना की पड़ताल करेंगे. वहीं कांग्रेस भी इस मुद्दे पर एक्टिव हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका आज रात लखनऊ पहुंच रही हैं. वे सोमवार को पीड़ित किसानों से मिलने के लिए लखीमपुर जाएंगी और घायल किसानों से मुलाकात करेंगी.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति