Monday , November 29 2021

छत्तीसगढ़ के जशपुर में दशहरा मना रहे लोगों को कार ने रौंदा, गाँजा भरा था: देखें Video

छत्तीसगढ़ के जशपुर में शुक्रवार को दुर्गा प्रतिमा विसर्जित करने जा रहे श्रद्धालुओं को एक बेकाबू कार ने रौंद दिया। ताजा समाचार मिलने तक इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई है और लगभग 26 लोग घायल हो गए हैं। घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जिनमें से 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बेतहाशा भागती जा रही उस कार में गाँजा भरा हुआ था। इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने कार को आग लगा दी है। यह घटना जशपुर के पत्थलगांव की है और शुक्रवार (15 अक्टूबर 2021) को दोपहर लगभग डेढ़ बजे के आसपास घटित हुई। घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

जुलूस में 7 अलग-अलग दुर्गा पूजा पंडालों की प्रतिमाएँ थीं। इन प्रतिमाओं को विसर्जित करने के लिए भारी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। इन्हें विसर्जित करने के लिए जशपुर स्थित नदी के घाट पर ले जाया जा रहा था। इसी दौरान पीछे से बेहद तेज गति में आती हुई कार श्रद्धालुओं को रौंदती निकल गई। इस दौरान लोगों को सँभलने का भी मौका नहीं मिला। घटना में मृतक का नाम गौरव अग्रवाल बताया जा रहा है, जिसकी उम्र लगभग 21 वर्ष थी।

मौके पर मौजूद चश्मदीदों के अनुसार, घटना के समय कार की गति 100 से 120 किलोमीटर प्रतिघंटे थी। लोगों का कहना है कि आरोपित गाँजा तस्कर हैं। घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने पत्थलगांव थाने का घेराव किया है। लोगों ने स्थानीय थाने के ASI पर गाँजा तस्करी में सहयोग करने का आरोप लगाते हुए आरोपित पुलिसकर्मी पर भी कार्रवाई की माँग की है।

लोगों को कुचल कर भागती कार को 5 किलोमीटर पीछा कर के सुखरापारा में पकड़ा गया है। वहीं, जशपुर के एसपी ने कहा कि मामला गाड़ी तेज चलाने का है और दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है। एसपी ने बताया कि दोनों आरोपी- बब्लू विश्वकर्मा और शिशुपाल साहू मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं और छत्तीसगढ़ के रास्ते जा रहे थे। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

 

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति