Friday , January 21 2022

‘पंजाबियों के लिए ये कोई बहुत बड़ी बात नहीं’: लुधियाना कोर्ट परिसर ब्लास्ट पर बोले CM चन्नी, मृतक पर ही हमलावर होने का जताया शक

पंजाब (Punjab) के लुधियाना कोर्ट (Ludhiana court blast) परिसर में गुरुवार (23 दिसंबर 2021) को हुए ब्लास्ट के बाद पंजाब में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस मामले में पंजाब सरकार से रिपोर्ट तलब की है।

गृह मंत्रालय की तरफ से NIA और NSG की टीम मौके पहुँच कर जाँच शुरू कर चुकी हैं। शुरुआती जाँच में शंका जताई जा रही है कि मरने वाला व्यक्ति ही आरोपित हो सकता है। पुलिस ने लोगों को भयभीत न होने की सलाह दी है। विस्फोटक IED का बताया जा रहा। पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि बम असेम्बल करते हुए ही ब्लास्ट हो गया। लुधियाना के पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह ने कहा कि ब्लास्ट में मृत व्यक्ति की पहचान कराने के प्रयास किए जा रहे हैं।

वहीं मुख्यमंत्री चन्नी ने लुधियाना पहुँच कर अस्पताल में घायलों का हालचाल लिया। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बताया, “ये कार्य किस गैंग का है या नहीं इसकी जाँच चल रही है। हम जल्द ही किसी नतीजे पर पहुँचेंगे। पंजाब में किसी भी हाल में शान्ति और कानून व्यवस्था को प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा। हमारी पुलिस ने बहुत बड़े-बड़े काम किए हैं। वो सक्षम है। कई एजेंसियाँ हैं जो पंजाब के लोगों को डराना चाह रही हैं। वो डरा कर आने वाले समय में वोट लेना चाहती हैं। जल्द ही उनके खुलासे हो जाएँगे। मैं पंजाब के लोगों से विनती करता हूँ कि आप वो हैं जिन्होंने देश के लिए कुर्बानी दी है। कई जंगें लड़ी हैं आपने। ये घटना हमारे लिए कोई बहुत बड़ी बात नहीं है। इन्हे रोका जाएगा।”

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, “जिस पर बम ऑपरेट करने का शक है वही इस घटना में मरा है। इसके अलावा 5 अन्य लोग घायल हैं। घायलों में कोई गंभीर हालत में नहीं है। हरमिंदर साहिब में घटना हुई, फिर कपूरथला में भी घटना हुई। उसमें किसी तरह की बेअदबी नहीं थी। आज मोहाली कोर्ट में फिर घटना हुई है। इसके पीछे पंजाब की अर्थव्यवस्था को चोट पहुँचाने वालों की साजिश हो सकती है। जाँच एजेंसियों के इनपुट हैं कि चुनाव को देखते हुए इस प्रकार की घटनाएँ हो सकती हैं। इसके पीछे नशे के सौदागर भी हो सकते हैं।”

पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधवा ने घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने बताया, “एक शव बाथरूम के अंदर मिला है। वहाँ पर फॉरेंसिक लैब वालों ने जाँच की है। जाँच में सामने आया कि धमाके की आवाज बहुत तेज नहीं थी। धमाके में मरे व्यक्ति का शरीर काफी जल चुका है इसलिए उसकी पहचान में थोड़ी देरी लग रही है। CCTV फुटेज निकाल कर चेक किया जा रहा है कि वो आदमी किधर से अंदर आया था। उसके साथ और कौन था। हर जाँच एजेंसी एक साथ काम करेगी और इस मामले की गहराई तक जाएँगे। सबसे पहली बात यही है कि चुनाव के ठीक 2 दिन पहले धमाका हुआ है। इन सभी चीजों को आपस में जोड़ कर जाँच होगी।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति