Friday , December 2 2022

ED ने कोर्ट से नवाब मलिक की 14 दिन के लिए हिरासत मांगी

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मुंबई अंडरवर्ल्ड से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में आज महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक को गिरफ्तार कर लिया. इससे पहले ईडी की टीम ने एनसीपी नेता से लंबी पूछताछ की थी. गिरफ्तारी के बाद एनसीपी नेता की जेजे हॉस्पिटल में मेडिकल जांच कराई गई. फिर आरोपी को पीएमएलए कोर्ट में पेश किया गया. सुनवाई के दौरान ईडी ने कोर्ट से आरोपी मलिक की रिमांड  के लिए 14 दिन की हिरासत मांगी है.

इसमें राकांपा ने नवाब मलिक का इस्तीफा नहीं लेने का फैसला किया है. शरद पवार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कहा गया कि हम बीजेपी के आगे नहीं झुकेंगे. पता चला है कि टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने भी सुझाव दिया था कि एनसीपी को नवाब का इस्तीफा नहीं लेना चाहिए.

ममता बनर्जी ने शरद पवार से बात की

नवाब मलिक का बयान

वहीं, गिरफ्तारी के बाद मंत्री नवाब मलिक की आरे से ट्विटर पर लिखा गया, ‘न डरेंगे और न झुकेंगे. 2024 के लिए तैयार रहिए.’

सुप्रिया सुले बोलीं, BJP का षड्यंत्र पूरा महाराष्ट्र देख रहा

NCP नेता सुप्रिया सुले ने कहा, नवाब मलिक के यहां ED के लोग आए थे. बहुत दिनों से बीजेपी के कार्यकर्ता, प्रवक्ता ट्वीट कर रहे थे कि नवाब मलिक और महाविकास आघाडी के खिलाफ ED का नोटिस आएगा. आज वह हो गया है. उन्होंने आगे कहा कि महाविकास आघाडी के खिलाफ बीजेपी जो षड्यंत्र कर रही थी उसे आज पूरा महाराष्ट्र देख रहा है. कोई नोटिस नहीं आया. महाराष्ट्र के एक मंत्री को सीधा ED अपने ऑफिस ले गई है. इन्होंने कौन-सी नई राजनीति शुरू की है ऐसा मैंने पहली बार होते देखा है.

संजय राउत बोले- एक-एक अफसर को एक्सपोज करूंगा

वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक को जिस तरह से ED के लोग उनके घर में घुसकर लेकर गए हैं, यह महाराष्ट्र सरकार के लिए चुनौती है. पुराने मामलों को निकालकर सबकी जांच हो रही है. आप जांच कर सकते हैं. 2024 के बाद आपकी भी जांच होगी. राउत ने आगे कहा, आने वाले दिनों में मैं सभी खुलासे करने जा रहा हूं. इसके लिए मुझे कितनी भी बड़ी कीमत क्यों ना चुकानी पड़े. मैं एक-एक अफसर को एक्सपोज करूंगा.

कांग्रेस की प्रतिक्रिया
कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र सराकर में मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा, ”राजनीति का स्तर गिर गया है. महाराष्ट्र में जो भी चीजें दिखाई दे रही हैं, वो उचित नहीं हैं.  लोकतंत्र में विरोध करना और अपने विचार प्रकट करने का सभी को अधिकार है, लेकिन इसमें कोर्ट-कचहरी, पुलिस, केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल ठीक नहीं है.”

महाराष्ट्र के बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का कहना है कि मंत्री नवाब मलिका को इस्तीफा दे देना चाहिए. सरकार के कई कैबिनेट मंत्रियों पर मुकदमे दर्ज हैं. राज्य के पूर्व गृह मंत्री पहले से जेल में हैं.

दरअसल, ईडी दाऊद इब्राहिम, उसके भाई अनीस, इकबाल, सहयोगी छोटा शकील के खिलाफ एक मामले की जांच कर रही है. इसके लिए पिछले हफ्ते कई जगहों पर छापेमारी भी हुई थी, जिसमें दाऊद की बहन हसीना पारकर का ठिकाना भी शामिल था. हसीना के बेटे अलिशाह पारकर से ईडी ने सोमवार को पूछताछ भी की थी. दाऊद के अन्य सहयोगियों पर भी ईडी की नजर है. क्योंकि दावा किया गया है कि दाऊद कुछ लोगों की मदद से मुंबई में अभी भी डी-कंपनी को ऑपरेट कर रहा है.

नवाब मलिक पर देवेंद्र फडणवीस ने लगाए थे आरोप

नवाब मलिक की दाऊद इब्राहिम के गुर्गे सरदार शाहवली खान और हसीना पारकर के बॉडीगार्ड सलीम पटेल के साथ हुई डील की भी जांच चल रही है. राज्य के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कुछ महीनों पहले आरोप लगाया था कि नवाब मलिक ने करोड़ों रुपये की प्रोपर्टी सिर्फ 30 लाख रुपये में खान और पटेल से खरीदी थी. फिलहाल ईडी मलिक की अन्य बिजनेस डीलिंग्स की जांच कर रही है.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.