Tuesday , June 28 2022

AltNews वाले मोहम्मद जुबैर पर UP में FIR, बजरंग मुनि और यति नरसिंहानंद को लेकर उगला था जहर

फैक्ट चेक के नाम पर प्रोपेगेंडा फैलाने वाले AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर (Mohammad Zubair) पर महंतों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा इस्तेमाल करने को लेकर उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले के खैराबाद थाने में बुधवार (1 जून 2022) को मुकदमा दर्ज किया गया है। मोहम्मद जुबैर ने धर्म संसद में दिए गए बयानों को लेकर यति नरसिंहानंद, बजरंग मुनि और आनंद स्वरूप को (घृणा फैलाने वाला) हेट मोंगर कहा था।

मोहम्मद जुबैर ने 27 मई 2022 को किए गए अपने ट्वीट में टाइम्स ऑफ इंडिया के विनीत जैन को टैग करते हुए लिखा था, “बहुत बढ़िया! हमें यति नरसिंहानंद सरस्वती या बजरंग मुनि या आनंद स्वरूप जैसे हेट मोंगर को किसी समुदाय या मजहब के खिलाफ बोलने के लिए धर्म संसद आयोजित करने की क्या जरूरत है, जब उससे बढ़िया काम करने के लिए स्टूडियो में एंकर मौजूद हैं।”

मोहम्मद जुबैर के ट्वीट का स्क्रीनशॉट

महंतों को हेट मोंगर कहने पर राष्ट्रीय हिंदू शेर सेना के सीतापुर जिलाध्यक्ष भगवान शरण ने खैराबाद थाने में IPC की धारा 295-A और IT ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया है। भगवान शरण का कहना है कि जुबैर ने महंतों को हेट मोंगर कहकर उनकी धार्मिक भावनाएँ भड़काई हैं। प्राथमिकी में कहा गया है कि जुबैर का बजरंग मुनि के साथ किसी तरह की पुरानी रंजिश या मुकदमा नहीं है। इसके बावजूद समाज में विद्वेष फैलाने और हिंदू-मुस्लिम विवाद कराने की उसने सोची-समझी साजिश की।

प्राथमिकी में यह भी कहा गया है कि मोहम्मद जुबैर देश के हिंदूवादियों के खिलाफ मुस्लिमों को भड़काता है और उनकी हत्या कराने के लिए उकसाता है। इनमें कमलेश तिवारी, यति नरसिंहानंद या अन्य लोग है, जिनकी या तो हत्या कर दी गई या जिनकी हत्या करने की कोशिश की जा रही है। जुबैर लगातार सांप्रदायिक टिप्पणी करते रहता है और उसके खिलाफ दिल्ली में पॉक्सो ऐक्ट में मामला भी दर्ज है।

दरअसल, टाइम्स नाउ पर विवादित ज्ञानवापी ढाँचे पर बहस के दौरान नुपुर शर्मा ने तर्क दिया कि चूँकि लोग बार-बार हिंदू आस्था का मजाक उड़ा रहे हैं, तो वे इस्लामी मान्यताओं का जिक्र करते हुए अन्य धर्मों का भी मजाक उड़ा सकती हैं। उनके इस तर्क वाले वीडियो की कटिंग को जुबैर ने इसे अपने 464,000 ट्विटर फॉलोअर्स के साथ साझा किया, जिसमें उसने नुपुर को अतिवादी, सांप्रदायिक नफरत फैलाने वाली और दंगे भड़काने वाली घोषित कर दिया।

हालाँकि, यह पहली बार नहीं है जब ऑल्ट न्यूज़ के संस्थापकों द्वारा उकसाए जाने के बाद किसी को धमकियाँ मिली हों। इससे पहले, एक नाबालिग लड़के को ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा द्वारा परेशान किए जाने के बाद भी धमकी दी गई थी। जुबैर से इस महीने की शुरुआत में दिल्ली पुलिस ने एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में पूछताछ की थी।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published.