कश्मीर में आतंक के लिए लंदन में अय्याशी, फंड के नाम पर ना-पाक मुजरा!

नई दिल्‍ली। कश्‍मीर में आतंकवाद और पत्‍थरबाजी को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्‍तान में फंड जुटाने के तमाम अभियान तो चलाए ही जाते हैं, दुनिया के कई अन्‍य देशों में इस तरह के अभियान चलाए जाते हैं. अब तो आलम यह है कि पाकिस्‍तान के नेताओं को लंदन में इसके लिए मुजरा करवाना पड़ रहा है. लंदन में कश्‍मीर की आजादी के नाम पर फंड जुटाने के लिए एक कार्यक्रम हुआ और इसमें लड़कियों का डांस करवाया गया.

कश्मीर में पाकिस्तान खून बहाता है, तो लंदन में ठुमके लगवाता है, मुजरे करवाता है. हर साल कश्मीर के नाम पर फंड जमा करने की तिकड़म होती है. इस साल भी पाक के नेता लंदन पहुंचे और मुजरे का भरपूर लुत्फ उठाया. कश्‍मीर के अलगाववादी नेताओं की यह देखकर आंखें खुल जानी चाहिए कि जिस पाकिस्तान के नाम पर वो जान लेने-देने की कसमें खाते हैं, उस पाकिस्‍तान के नेता कैसे उनके नाम पर लंदन में ऐश कर रहे हैं. बड़े-बड़े नेता पहुंचे थे, ताकि कश्मीर के नाम पर खाता भरा जा सके. इस बारे में जो तस्वीरें सामने आई हैं उससे शायद पाकिस्तान के बेशर्म नेताओं को भी कुछ शर्म आ जाए. कश्‍मीर के नाम पर पाकिस्तान जो ना करे और कराए वो कम है.

गौरतलब है कि कश्मीर घाटी में हिंसा की आग को सुलगाए रखने के लिए पाकिस्तान की फंडिंग जारी है. अब खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI पत्थरबाजों तक पैसा पहुंचाने के लिए नई तरकीब इस्तेमाल कर रही है.

loading...

NIA के अनुसार ISI ने पत्थरबाजों की फंडिंग के लिए पीओके में बाकायदा फंड मैनेजर तैनात किये हैं. ये एजेंट सरहद पर सामान के आदान-प्रदान की फर्जी इन-वॉयसिंग का सहारा लेते हैं. आयात और निर्यात के सामान की कीमत कम करके दिखाई जाती है और बाकी पैसे का बड़ा हिस्सा अलगाववादियों तक पहुंचाया जाता है.

वीडियो साभार आजतक
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जिहादियों ने दी थी धमकी,’ इस्लाम अपनाओ, भागो या मरो’: अपने ही देश में निर्वसितों की तरह जी रहे कश्मीरी पंडितों की दुख भरी कहानी..

एक कश्मीरी पंडित कभी नहीं भूलेगा 1989 का