दुबई में मोदी भारतीय समुदाय के लोगों को किया संबोधित, मंदिर का शिलान्यास

दुबई । अपने यूएई दौरे के दौरान पीएम मोदी ने रविवार को दुबई के ऑपेरा हाउस पहुंचे। मोदी ने यहां विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राजधानी के पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास किया। 55000 वर्ग मीटर भूमि में बनने वाला यह मंदिर पश्चिम एशिया में पत्थरों से बना यह प्रथम हिंदू मंदिर होगा, जिसे बीएपीएस संस्था द्वारा बनाया जाएगा। इस दौरान पीएम मोदी ने यूएई में रह रहे भारतीयों को संबोधित किया। दुबई के ऑपेरा हाउस में अपने संबोधन में पीएम ने कहा, ‘शायद कई दशकों के बाद भारत का खाड़ी देशों के साथ इतना व्यापक और गहरा नाता बना है।’

पीएम ने कहा कि भारत को गर्व है कि खाड़ी के देशों में 30 लाख से भी अधिक भारतीय समुदाय के लोग यहां की विकास यात्रा में भागीदार रहे हैं। भारतीय समुदाय ने इसे अपना घर मानकर प्रतिबद्धता के साथ यहां के लोगों के सपनों को साकार करने के लिए अपने सपनों को भी यहां बोया है।

‘दो देशों के बीच सद्भावना सेतु होगा मंदिर’
पीएम ने कहा ‘बहुत लोगों को आश्चर्य हुआ कि क्राउन प्रिंस ने मंदिर बनाने की बात को आगे बढ़ाया। मैं क्राउन प्रिंस को सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों की तरफ से आभार व्यक्त करना चाहता हूं। मंदिर का निर्माण दोनों देशों की सद्भावना के सेतु के रूप में होगा। हम उस परंपरा में पले हैं, जहां मंदिर मानवता का स्थान है।’ पीएम ने कहा कि आज देश विकास की नई ऊंचाइयों को पार कर रहा है। यह भारत के लिए गर्व की बात है कि एक विश्व स्तर की समिट में भारत को विशेष सम्मान मिलेगा। बता दें कि दुबई में होने वाली वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में पीएम मोदी मुख्य वक्ता के रूप में हिस्सा लेंगे।

‘लोग अब पूछते हैं काम कब होगा’
भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘भारत किस तेजी से बदल रहा है और सवा सौ करोड़ लोग अपने सपनों को पूरा करने के लिए किस तरह आगे बढ़ रहे हैं, यह आपको पता है। हमने वह समय भी देखा है जब लोग चलो छोड़ो यार कहकर उम्मीद छोड़ देते थे।’ उन्होंने कहा कि एक समय था जब आम आदमी पूछता था, यह संभव है क्या? यह हो सकता है क्या? लेकिन चार साल में हम उस जगह पहुंच गए हैं जब देश यह नहीं पूछ रहा है कि संभव है या नहीं है, वह पूछ रहा है कि मोदी जी बताओ कब होगा? इस सवाल में शिकायत नहीं है, विश्वास है।

Loading...

‘ग्लोबल बेंचमार्क तक आएगा भारत’
2014 में ईज ऑफ डुइंग बिजनस में हम 142 नंबर पर थे, सूची में पीछे से ढूंढने पर हमारा नाम आसानी से मिल जाता था। लेकिन इतने कम समय में हम 42 अंक आगे जाकर 100 पर पहुंच गए हैं, हम यहां भी नहीं रूकेंगे, हमें अभी और आगे जाना है। इसके लिए जो भी जरूरी होगा, वह करेंगे। पीएम ने कहा कि हमारा उद्देश्य भारत को ग्लोबल बेंचमार्क के स्तर तक लाना है।

21वीं सदी को एशिया की सदी बनाने के लिए मेहनत करनी पड़ेगी, तत्कालिक लाभ हो या न हो, लेकिन कोशिश करनी पड़ेगी। कुछ काम ऐसे होते हैं जिनका तत्कालिक लाभ नहीं होता, लेकिन लोगों की भलाई के लिए वे करने पड़ते हैं। पीएम ने नोटबंदी का जिक्र करते हुए कहा, ‘नोटबंदी करता हूं तो देश के गरीब तबके को समझ आता है कि सही दिशा का मजबूत कदम है, लेकिन कुछ लोगों की रात की नींद अब तक उड़ी हुई है।’

पीएम ने कहा कि कई साल से अटका हुए जीएसटी को हमने बेहद कम समय में पास कराया है। इसकी वजह से कुछ परेशानी हो रही है, लेकिन जब व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया जाता है तो थोड़ी परेशानी होती है। इस मौके पर भी लोगों को बखूबी समझ आ रहा है कि यह कदम देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण होने वाला है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

कर्नाटक का CM बनने के 5 दिन बाद ही PM से मिलने के लिए कुमारस्वामी ने मांगी तारीख, जानिए क्या है वजह

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी ने भाजपा