तेजस्वी यादव का गंभीर आरोप, ‘मेरे खाने में नीतीश कुमार के इशारे पर जहर मिलाया जा रहा है’

पटना। बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर गंभीर आरोप लगाये हैं. तेजस्वी ने शुक्रवार की शाम को एक बयान में कहा कि नीतीश कुमार, हमारी संविधान बचाओ न्याय यात्रा को मिल रहे अपार जनसमर्थन से घबराकर बौखलाहट में हैं. तेजस्वी ने कहा कि उन्हें विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि सरकार द्वारा उनके खिलाफ गंभीर साजिश रची जा रही है. बता दें कि तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर पहले फ़ोन टैपिंग का आरोप लगाया था.

मगर अब तेजस्वी यादव का कहना है कि सर्किट हाउस में ठहरने के वक्त खाने-पीने की चीज़ों में नशीले और विषैले पदार्थ मिलाने की कोशिश की जा रही है. साथ ही सभा स्थल तक पीछा कर जासूसी करवाई जा रही है. तेजस्वी की मानें तो उनकी छवि बिगाड़ने और जानमाल का नुकसान पहुंचाने का कुचक्र रचा जा रहा है.

इस बयान में तेजस्वी ने कहा कि देश जानता है नीतीश कुमार अलोकतांत्रिक प्रवृत्ति के नकारात्मक एवं अवसरवादी व्यक्ति हैं, जो विरोधियों को निपटाने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि ‘मुझे यह समझ में नहीं आ रहा है कि मैंने यानी एक 28 वर्ष के नौजवान ने उनका क्या बिगाड़ा है? उलटा उन्होंने हमारे सहयोग से बहुमत प्राप्त कर जनादेश की डकैती की है. मुख्यमंत्री जी, माना सारा प्रशासनिक अमला आपके हाथ में है, लेकिन उसका गलत फायदा मत उठाइये. लोकतांत्रिक तरीक़े से लड़िए.

Loading...

तेजस्वी के इस बयान पर जनता दल यूनाइटेड के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि तेजस्वी को दरअसल अपने इस यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की लोकप्रियता का एहसास हो गया है और आगामी उपचुनाव में हार का अंदाजा भी लग गया है. संजय सिंह के अनुसार तेजस्वी ने इस हार के लिए पहले से बहाना ढूंढ लिया है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बॉम्बे मर्केंटाइल बैंक: ठगी करने वाला बैंक और बचाने वाले मंत्री…

प्रभात रंजन दीन उत्तर प्रदेश सरकार ने केंद्र