ट्रंप का खुलासा, किम जोंग उन से पिछले हफ्ते मिले थे CIA निदेशक माइक पंपेओ

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग उन के साथ मुलाकात से पहले सीआईए के चीफ ने किम से मुलाकात की है. ट्रंप ने बुधवार को इस बात की पुष्टि की है कि सीआईए के निदेशक माइक पंपेओ प्योंगयांग के एक गोपनीय दौरे में किम जोंग उन से मिल चुके हैं.

शीर्ष स्तर पर होने वाली प्रस्तावित बैठक से पहले दोनों देशों के बीच यह सर्वोच्च स्तर की बैठक थी. ट्रंप ने बताया कि सीआईए के निदेशक माइक पंपेओ पिछले हफ्ते किम से मिले थे. ट्रंप पंपेओ को विदेश मंत्री के पद के लिए नामित भी कर चुके हैं.

ट्रंप ने ट्विटर पर लिखा, ‘माइक पंपेओ पिछले हफ्ते उत्तर कोरिया में किम जोंग उन से मिले थे. बैठक काफी अच्छी रही और अच्छे संबंधों का निर्माण हुआ. शिखर वार्ता पर इस समय काम किया जा रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘परमाणु निरस्त्रीकरण केवल उत्तर कोरिया नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए एक अच्छी बात होगी.’

Donald J. Trump

@realDonaldTrump

Mike Pompeo met with Kim Jong Un in North Korea last week. Meeting went very smoothly and a good relationship was formed. Details of Summit are being worked out now. Denuclearization will be a great thing for World, but also for North Korea!

खत्म किया 18 साल का इंतजार

Loading...

वर्ष 2000 के बाद से उत्तर कोरिया के किसी नेता के साथ अमेरिका की यह सर्वोच्च स्तर की बैठक थी. तब तत्कालीन विदेश मंत्री मेडलीन अलब्राइट प्योंगयांग में मौजूदा नेता किम जोंग उन के पिता किम जोंग इल से मिली थीं.

इससे पहले ‘वाशिंगटन पोस्ट’ अखबार ने मंगलवार को अपनी खबर में कहा था कि पंपेओ अप्रैल के पहले सप्ताहांत में उत्तर कोरिया गए थे. अखबार के अनुसार यह मुलाकात आने वाले हफ्तों में ट्रंप और किम के बीच होने वाली ऐतिहासिक बैठक की तैयारी के तहत हुई.

दक्षिण कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी योनहैप की खबर के अनुसार देश के राष्ट्रपति मून जाई इन और किम अगले हफ्ते (27 अप्रैल) मिलने वाले हैं. दोनों देश शिखर वार्ता के हिस्सों का सीधा प्रसारण करने पर भी सहमत हुए हैं. इस बैठक को ‘साउथ-नॉर्थ समिट 2018’ नाम दिया गया है. ऐसे कयास भी लगाए जा रहे हैं कि इस मीटिंग के बाद दोनों देशों के बीच 68 साल से जारी दुश्‍मनी पर विराम लग जाएगा.

आशावान ट्रंप

ट्रंप ने कल अमेरिकी दौरे पर आए जापानी प्रधानमंत्री शिंजो अबे के साथ संयुक्त मीडिया सम्मेलन के दौरान कहा था कि शिखर वार्ता जून में या उससे पहले हो सकती है. उन्होंने कहा था कि बैठक के लिए पांच स्थलों पर विचार किया जा रहा है, लेकिन यह अमेरिका में नहीं है.

ट्रंप ने कहा, ‘मैं किम जोंग उन के साथ मुलाकात के लिए उत्साहित हूं और उम्मीद है कि यह सफल होगी. हो सकता है कि ऐसा हो या हो सकता है कि ऐसा ना हो. हमें नहीं पता, लेकिन हम देखेंगे कि क्या होता है. मैं यह कह सकता हूं कि वे हमारा सम्मान करते हैं. हम उनका सम्मान करते हैं. देखते हैं, क्या होता है.’

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इस स्टिंग से पहली बार बेनकाब हुआ था आसाराम, मिनटों में खुली थी अय्याशी की पोल

नई दिल्ली। आसाराम अब बलात्कारी साबित हो चुका है.