Monday , November 19 2018

विराट कोहली के बचाव में उतरे मोहम्मद कैफ तो हर्षा भोगले ने की आलोचना

नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने हाल ही में एक प्रशंसक को देश छोड़ने की सलाह दी थी, जिसके बाद उन्हें काफी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ विराट कोहली के समर्थन में उतरे हैं. उन्होंने विराट कोहली का समर्थन करते हुए कहा है कि उन्हें जानबूझकर ट्रोल किया जा रहा है. हालांकि, इस मामले के तूल पकड़ने के बाद विराट कोहली ने भी इस मामले में सफाई दी थी.

देश छोड़ने वाले बयान को लेकर प्रशंसकों के निशाने पर आने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अब मुद्दे को शांत करने का प्रयास करते हुए कहा है कि सभी को अपने पसंद की आजादी है. कोहली ने एक ट्वीट कर कहा, “मुझे लगता है कि ट्रोलिंग करना मेरे लिए नहीं है दोस्तों, मैं खुद ट्रोल होने से ही संतुष्ट हूं. मैंने सिर्फ ये बताने की कोशिश की थी कि कैसे ‘इन भारतीयों’ को उस कमेंट में लिखा गया था और कुछ नहीं. मैं भी पसंद की आजादी के पक्ष में हूं. दोस्तों त्योहार का आनंद लो और शांत रहें. सबको प्यार.”

अब मोहम्मद कैफ ने भी विराट कोहली के समर्थन में ट्वीट करते हुए लिखा- कुछ लोग जानबूझकर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं और उनकी टिप्पणी को घुमा-फिराकर अपने अजेंडा के तहत पेश कर रहे हैं. विराट ने एक निश्चित संदर्भ में यह टिप्पणी की थी, जबकि लोग उन्हें जानबूझकर निशाना बना रहे हैं.

वहीं, क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने इस मामले पर अपनी आपत्ति जताई है. उन्होंने विराट के इस बयान पर ट्वीट करते हुए लिखा- कोहली का बयान बुलबुले का प्रतिबिंब है, जिसमें ज्यादातर लोकप्रिय लोग फिसल जाते हैं या मजबूर हो जाते हैं. यह बबल काफी आरामदायक होता है और यही कारण है कि आखिर क्यो जाने माने लागे इसे बनने से रोकने के लिए काफी कोशिश करते हैं.

Loading...

बता दें कि विराट कोहली ने  अपने 30वें जन्मदिन पर ‘विराट कोहली ऑफिसियल ऐप’ लॉन्च किया था. इस दौरान एक फैन ने उनसे बातचीत में भारतीय टीम के बजाय इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया टीम को महत्व दिया था. एक फैन ने लिखा था , “वह (विराट) एक क्षमता से बढ़ाकर आंका गया बल्लेबाज (ओवर रेटेड बैट्समैन) हैं. मुझे उनकी बल्लेबाजी में कुछ भी खास नहीं दिखता. मैं इन भारतीयों की तुलना में इंग्लैंड और आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को देखना पसंद करता हूं.”

इस पर विराट कोहली ने कहा था कि वह आलोचनाओं से निजी तौर पर प्रभावित नहीं होते हैं. लेकिन भारत में रहते हुए यदि कोई भारतीय खिलाड़ियों को पसंद नहीं करता है तो उन्हें देश में नहीं रहना चाहिए. उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगा कि तुम्हें भारत में रहना चाहिए. जाइए और कहीं जाकर रहिए. आप क्यों इस देश में रह रहे हैं और दूसरे देशों को पसंद कर रहे हैं? मुझे इस पर कोई ऐतराज नहीं है कि तुम्हें मेरा खेल पसंद नहीं है लेकिन मुझे नहीं लगता कि तुम्हें इस देश में रहकर दूसरी चीजों को पसंद करना चाहिए. अपनी प्राथमिकताओं को सही करिए.”

बता दें कि विराट कोहली वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच मैचों की वन-डे सीरीज में सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ते हुए सबसे तेजी से 10 हजार रन बनाने वाले बल्लेबाज बने थे.

Loading...

About I watch

Check Also

बैंक डि‍फॉल्‍टर्स पर सीआईसी सख्‍त, जानबूझकर कर्ज नहीं चुकाने वालों के नाम बताने का दि‍या आदेश्‍ा

नई दिल्ली। केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने रिजर्व बैंक (आरबीआई) और प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *