Tuesday , December 11 2018

INDvsAUS 1st Test: पूरी सीरीज पर दिख सकता है ऑस्ट्रेलिया की धीमी बल्लेबाजी का असर

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के पहले मैच में टीम इंडियाके 250 रन के जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक 88 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बना लिए थे. क्रीज पर नियमित बल्लेबाज के नाम पर ट्रेविस हेड 61 रन बनाकर मौजूद हैं जबकि उनके साथ मिचेल स्टार्क दे रहे हैं. यह पारी ऑस्ट्रेलिया की ख्याति के मुताबिक पारी नहीं रही और टीम का अब तक इस पारी में औसत केवल 2.17 रहा. यह इस सदी की ऑस्ट्रेलिया की सबसे धीमी बल्लेबाजी में से एक रही.

शुक्रवार का खेल टीम इंडिया के लिहाज से काफी अहम रहा और यह इस बात का इशारा भी है यह पूरी सीरीज में दोनों टीमों के बीच कैसी रहेगी. मैच शुरू होने से पहले पिच को बल्लेबाजी के लिए मुफीद माना जा रहा था. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी को चुना. पहले दिन के पहले सत्र में जरूर लगने लगा था कि इस बार भी पिछली कई सीरीज की तरह टीम इंडिया के बल्लेबाजों की नाकामी हावी हो जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और चेतेश्वर पुजारा की शतकीय पारी की मदद से भारत 250 रन बना सका.

वार्नर स्मिथ की कमी का दिखा असर
ऑस्ट्रेलिया की पारी में स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी साफ दिखाई दी. पहले ही टीम को इन दोनों की गैरमौजूदगी की वजह से कमजोर माना जा रहा था, लेकिन शुक्रवार को टीम पर उसका मनोवैज्ञानिक असर साफ दिखाई दिया. पहले ओवर में फिंच का विकेट और फिर सभी बल्लेबाजों की धीमी बल्लेबाजी दिन का खास आकर्षण रही. यह धीमी बल्लेबाजी ऑस्ट्रेलिया के मैदानों के लिहाज से वह भी भारत के खिलाफ काफी अहम मानी जाएगी क्योंकि अब ऑस्ट्रेलिया की टीम इस सीरीज में खुल कर बल्लेबाजी करे इसकी उम्मीद ज्यादा नहीं है.

इतने ज्यादा मेडन नहीं खेले ऑस्ट्रेलिया में
दिन की शुरुआत में जब टीम इंडिया की पहली पारी दिन की पहली ही गेंद पर सिमटी, ऑस्ट्रेलिया के पास मौका था कि वह अपना सामान्य खेल खेले और कम से कम दिन भर में 200 से ज्यादा रन तो बना ही ले, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ज्यादा ही सावधान दिखे. आलम यह था कि जहां ऑस्ट्रेलिया ने पहले दिन केवल 13 ओवर मेडन फेंके, वहीं टीम इंडिया ने दूसरे दिन 31 ओवर मेडन फेंक डाले जिसमें से एक ओवर भारत के अनियमित गेंदबाज मुरली विजय का भी था.

Loading...

इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के 100 रन आने में 47.1 ओवर लग गए. वैसे पूरी पारी के लिहाज से देखा जाए तो ऑस्ट्रेलिया ने अब तक खेले टेस्ट मैचों में सबसे कम रन रेट से 1988 में ओवल में इंग्लैंड के खिलाफ 1.18 के रनरेट से केवल 1.18 रहा था.

Loading...

About I watch

Check Also

INDvsAUS: भारतीय दिग्गज ने चेताया, सीरीज में अब वापसी कर सकता है ऑस्ट्रेलिया

टीम इंडिया के पूर्व टेस्ट तेज गेंदबाज करसन घावरी ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *