Wednesday , January 16 2019

गठबंधन से पहले ही RLD के ‘सिक्सर’ पर अटकी बात, क्या मानेंगे अखिलेश-मायावती?

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही राजनीतिक दल अपनी रणनीति बनाने में जुट गए हैं. उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के मुखिया शनिवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर गठबंधन का औपचारिक ऐलान कर सकते हैं. इस गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल के शामिल होने की संभावनाओं पर पार्टी प्रमुख अजित सिंह का कहना है कि अभी सीटों को लेकर उनकी कोई बात नहीं हुई है, लेकिन हम महागठबंधन में शामिल हैं.

शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि हम महागठबंधन में शामिल हैं, लेकिन सीटों पर कोई बात नहीं हुई है. अजित सिंह ने कहा कि मायावती और अखिलेश यादव की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के बारे में कोई जानकारी नहीं है. सम्मानजनक सीटों के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि वह अगर-मगर की बात नहीं करना चाहते हैं.

क्या कांग्रेस महागठबंधन में शामिल होगी, इस सवाल पर रालोद नेता अजित सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मायावती और अखिलेश यादव बड़ी पार्टियां हैं, इसलिए इसका फैसला भी वही करेंगे.

आपको बता दें कि अजित सिंह का ये बयान तब सामने आया है जब रालोद का सीटों को लेकर पेच फंसता दिख रहा है. सूत्रों की मानें तो समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन में अजित सिंह की पार्टी को तीन सीटंय देना चाहते हैं जबकि रालोद 5 सीटें लेने पर अड़ी है. इसी को लेकर पेच फंसता दिखाई दे रहा है.

प्रदेश अध्यक्ष बोले- 6 सीटों पर लड़ना चाहते हैं

Loading...

अजित सिंह के बयान से इतर यूपी रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद का कहना है कि हमने 6 सीटों की मांग की है. हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी बातचीत हो रही है इसलिए सीटों की संख्या बढ़-घट भी सकती है. गठबंधन पर अनौपचारिक बैठक हुई है, हमें विश्वास है कि सम्मानजनक सीटें मिलेंगी. मायावती-अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बारे में उन्होंने कहा कि शनिवार की पीसी में अभी काफी समय है, शायद हम शाम को भी बुलाए जा सकते हैं.

शनिवार को मायावती और अखिलेश यादव लखनऊ में साझा प्रेस वार्ता करेंगे, जिसमें उत्तर प्रदेश में महागठबंधन पर मुहर लग सकती है. दोनों नेता इस दौरान सीट बंटवारे का भी ऐलान कर सकते हैं.

सूत्रों की मानें तो जो फॉर्मूला तैयार हुआ है, उसके मुताबिक समाजवादी पार्टी 35 सीट, बसपा 36 सीट और राष्ट्रीय लोकदल 3 सीट पर चुनाव लड़ेगी. वहीं 4 सीट रिजर्व रखी जाएंगी. इसके अलावा गठबंधन अमेठी और रायबरेली में अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगा.

Loading...

About I watch

Check Also

क्या सुप्रीम कोर्ट की बनाई समिति क्रिकेट को फायदे की बजाय नुकसान ज्यादा पहुंचा रही है?

अभय शर्मा टीवी शो ‘कॉफी विद करन’ में महिलाओं को लेकर विवादास्पद टिप्पणी के कारण ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *