Monday , October 14 2019

‘Howdy मोदी’ के लिए भारतीय प्रधानमंत्री ने क्यों चुना अमेरिका का ह्यूस्टन?

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अमेरिका के ह्यूस्टन (Houston) में की सात दिवसीय यात्रा पर हैं. रविवार को वह ‘हाउडी मोदी’ (Howdy Modi) कार्यक्रम में 50,000 से अधिक भारतीय प्रवासियों को संबोधित करने वाले हैं, जहां वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ मंच साझा भी करेंगे. पहले ही दिन पीएम मोदी की मौजूदगी में भारत और अमेरिका की एनर्जी कंपनियों के बीच तरलीकृत प्राकृतिक गैस (LNG) को लेकर बड़ी डील हुई. इस मौके पर हम आपको बताने जा रहे हैं ह्यूस्टन में पीएम मोदी के मिनट-टू-मिनट प्रोग्राम का शेड्यूल और अन्य खासियतें… 

#अमेरिका में भारतीयों का दबदबा
करीब 30 लाख भारतीय आबादी
करीब 15 लाख भारतीय वोटर
करीब 12.8 लाखग्रीन कार्ड धारक
5 भारतीय मूल के सांसद
12% भारतीय वैज्ञानिक
36% NASA में भारतीय वैज्ञानिक
38% भारतीय डॉक्टर
34% माइक्रोसॉफ्ट में भारतीय
13% XEROX में भारतीय
28% IBM में भारतीय
17%INTEL में भारतीय ))

#Howdy मोदी, ‘ऊर्जावान’ हिंदुस्तान !
पहले ही दिन भारत का ऊर्जा क्षेत्र में बड़ी डील
एनर्जी सेक्टर के CEO के साथ पीएम मोदी ने की बैठक
एनर्जी सेक्टर के 17 CEO के साथ राउंड टेबल मीटिंग
LNG को लेकर भारतीय-अमेरिकी कंपनियों में डील
पेट्रोनेट और टेलुरियन में 50 लाख टन LNG पर करार
PLL अमेरिका से सालाना 5 मिलियन टन LNG आयात करेगी
भारतीय कंपनी पेट्रोनेट 2.5 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी
भारत को कम कीमत पर स्वच्छ ईंधन की आपूर्ति होगी

#Howdy मोदी का ‘ह्यूस्टन क्लॉक’

5:30 PM NRG स्टेडियम में लोगों की एंट्री शुरू
8 PM – NRG स्टेडियम में एंट्री बंद
8:30 PM – 90 मिनट का सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू
10 PM – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण
11 PM – Howdy मोदी कार्यक्रम का समापन

#ह्यूस्टन का दुनिया में क्यों बड़ा नाम ?
1. ह्यूस्टन ‘ऊर्जा की अंतरराष्ट्रीय राजधानी’ है
2. अमेरिका में तेल उत्पादन का ‘सबसे बड़ा हब’ है
3. ह्यूस्टन में है ‘दुनिया का सबसे बड़ा’ मेडिकल सेंटर
4. अमेरिका में भारतीयों के लिए ‘हॉट स्पॉट’
5. ह्यूस्टन में है नासा के मानव स्पेस फ्लाइट प्रोजेक्ट का केंद्र

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *