Saturday , January 28 2023

कही-अनकही सचकही

खुशहाल भारत के लिए हिंदू समाज में एक और पुनर्जागरण की आवश्यकता

श्रीराम चरित मानस की कुछ चौपाइयों पर सियासत की रोटी सेंकना कहां तक जायज़! संघ प्रमुख मोहन भागवत के स्वप्न और विचारों को आत्मसात करने की जरूरत, उन्होंने जाति व्यवस्था को समाप्त करने के लिए हाल ही में उठाई थी आवाज राहुल कुमार गुप्ता हाल ही में फिर श्री राम ...

Read More »

क्या ब्रह्माजी ने अपनी बेटी सरस्वती से विवाह किया था?

डा. अभिलाशा   प्रकृति में ठंडे शुष्क मौसम के बाद रस का संचार होता है। इसे ही वसंत ऋतु कहते हैं। सूर्य के प्रकाश में गर्माहट बढ़ने के साथ ही धरती पर प्रकृति में रस का संचार होने लगता है। सरस्वती का विग्रह सरस+वती है जिसका अर्थ होता है सुन्दर ...

Read More »

विदेशी फंडिंग वाली इन संस्थाओं का विरोध कीजिए, वरना कल को बड़ों के पाँव छूना भी कहलाएगा ‘अंधविश्वास’: बागेश्वर धाम से इसीलिए भड़के हैं मिशनरी

अनुपम कुमार सिंह (सभार ) प्रतिदिन सूर्योदय होना भी चमत्कार है। फिर सूर्य का अस्ताचलगामी हो जाना भी चमत्कार है। बुद्ध ग्रह पर 243 दिनों का तक सूर्य का अस्त न होना भी चमत्कार है और बृहस्पति पर 10 घंटे में ही दिन-रात का बीत जाना भी चमत्कार है। आप ...

Read More »

चुनाव से पहले 400 दिन का शोर, यूपी पर है पूरा जोर

अनिल सिंह  दिल्‍ली में भाजपा की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद पार्टी लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। इस साल नौ राज्‍यों में विधानसभा चुनाव होने हैं, जिनमें कर्नाटक, राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश जैसे कई बड़े एवं महत्‍वपूर्ण राज्‍य शामिल हैं। पर, भाजपा की निगाह सर्वाधिक सीटों वाले ...

Read More »

आधी रात दादी इंदिरा के घर से निकले थे 2 साल के वरुण गांधी, क्यों इतनी मजबूर हो गईं थीं मेनका

भाजपा सांसद वरुण गांधी के कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों पर राहुल गांधी ने यह कहकर विराम लगा दिया है कि ‘मेरे परिवार की एक विचारधारा है। वरुण ने अलग रास्ता चुना, जिसे मैं कभी अपना नहीं सकता। मैं कभी आरएसएस के दफ्तर नहीं जा सकता हूं। इसके लिए ...

Read More »

मोदी जी, कब हटाएंगे यौन शोषण के आरोपी बृजभूषण शरण सिंह को

भाषा सिंह देश के इतिहास में संभवतः पहली बार ओलंपिक, राष्ट्रमंडल खेलों में पुरस्कार जीत चुके खिलाड़ी अपनी फेडरेशन के मुखिया के खिलाफ इतने गंभीर आरोप, जिनमें यौन शोषण का आरोप भी शामिल है—लेकर धरने पर बैठे। इन आरोपों को लगाते हुए उन्होंने हाथ में जिस तरह से तिरंगा उठा ...

Read More »

राहुल गांधी की यात्रा की हवा निकाल दी मायावती ने

दयानंद पांडेय  मायावती लोगों की हवा निकालने में सर्वदा से ही पारंगत हैं। आज अपने जन्म-दिन पर राहुल गांधी और उन के भारत जोड़ो यात्रा की हवा निकाल दी है। राहुल गांधी ने भी गलती की। आज सुबह ही उन्हें मायावती को जन्म-दिन की बधाई थमा दी होती तो शायद ...

Read More »

मौत के बाद महान बनाने की परिपाटी कब तक, जिनका आज इंतकाल हुआ उन्होंने सबरी के राम को ठुकरा ‘मौलाना मुलायम’ होना खुद चुना

मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) का आज (10 अक्टूबर 2022) इंतकाल हो गया। इसकी पुष्टि उनके उस बेटे (अखिलेश यादव) ने भी की है, जिन पर राजनीतिक विरासत को हड़पने के लिए पिता को मुगलों वाले तरीके से बेदखल करने के आरोप लगते हैं। हमारे यहाँ सामाजिक परिपाटी है ...

Read More »

मुलायम तो अपने घर गए… लेकिन कोठारी बंधु की घर लौटने की वह यात्रा कभी पूरी ही नहीं हुई: ‘धरती पुत्र’ थे जब CM, तब घर से खींच कर मारी गोली

समर्थकों के लिए ‘धरती पुत्र’ रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) का सोमवार (10 अक्टूबर 2022) को इंतकाल हो गया। उसके बाद उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए उनके पैतृक गाँव सैफई लाया गया। यही उनका अंतिम ...

Read More »

गौशालाओं की दशा व उसके आर्थिक सुधार की संभावनाएं

अज़ीम मिर्ज़ा गाय को रहने के लिए कितनी जगह चाहिए, उसको कितना भोजन चाहिए, उसको बीमार होने पर क्या दवा दी जानी चाहिए। यह मुझे नहीं मालूम। यह शब्द हैं पूर्वी उत्तर प्रदेश के बहराइच जनपद अंतर्गत कैलाशनगर वासी तुलसीराम के। वह आगे बताते हैं कि हमारे गाँव में बेसहारा ...

Read More »

अभाव के अनुभूति के बिना संस्कारवान नहीं हो सकता है स्वभाव (शिक्षक दिवस- पांच सितम्बर पर विशेष)

स्वाती सिंह पहले एमबीए, बीटेक आदि में लगभग सभी छात्र सामान्य से कुछ ऊपर परिवारों से ही आते थे। उनमें हर वक्त स्मार्ट बने रहने की ललक भी दिखती थी, यह ललक अब भी दिखती है लेकिन इसी में कुछ ऐसे भी आते हैं, जो अभाव में जिंदगी गुजारकर भी ...

Read More »

गुरु बिन ज्ञान न उपजै

डॉ. सौरभ मालवीय  हमारे जीवन में गुरु अथवा शिक्षक का अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है। गुरु ज्ञान का भंडार होता है। वह हमें ज्ञान देता है, हमारा पाठ आलोकित करता है। ज्ञान वह अमूल्य वस्तु है, जिसे कोई चुरा नहीं सकता। ज्ञान ऐसा कोश है, जिसमें से जितना व्यय करो वह उतना ही बढ़ता जाता है। गुरु ही हमारे ...

Read More »

अबला कभी रही होगी ! अब तो बुलंदी पर है !

के. विक्रम राव इस्लामी जम्हूरिया की दो तरुणिओं समीना बेग (पाकिस्तान) और अफसानेह हेसामिफर्द (ईरान) ने विश्व में सबसे ऊंची चोटी (एवरेस्ट के बाद) काराकोरम पर्वत श्रंखला पर फतह हासिल कर, जुमे (22 जुलाई 2022) की नमाज अता की थी, तो हर खातून को नाज हुआ होगा। सिर्फ सरहद पर ...

Read More »

रुपये का गिरना समस्या है तो वरदान भी

मैं सोचता हूं कि इस बात को कितने लोग समझते होंगे कि जापान और चीन ने कैसे जानबूझकर अपनी मुद्राओं की कीमत कम रखी- सिर्फ इसलिए ताकि निर्यात बाजार में उनके उत्पाद धूम मचा सकें। अब यह तो सभी लोग जानते होंगे कि इन दोनों देशों की अर्थव्यवस्थाओं ने पिछले ...

Read More »

बाल विधवा इस्पाती नेता बनी !

के. विक्रम राव यह दास्तां है एक कन्या की जो आठ साल की आयु में विधवा हो गयी थी। वह बड़ी होकर भारत की लौह नारी बनी। आज (15 जुलाई 2022) उनकी 113वीं जयंती है। इस अल्पायु सत्याग्रही को राष्ट्रीय कांग्रेस के कई कर्णधार लोग जानते थे। उनमें महात्मा गांधी ...

Read More »