Monday , October 14 2019

‘RSS वाले शादी नहीं करते, यही हनीट्रैप का कारण’ – कॉन्ग्रेस नेता का बयान, लोगों ने पूछा – राहुल ने क्यों नहीं किया?

भोपाल। मध्य प्रदेश में हनी ट्रैप सेक्स स्कैंडल का भंडाफोड़ होने के बाद कॉन्ग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने इस पूरे कांड के लिए आरएसएस के लोगों को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने इस इल्जाम के पीछे बड़ा ही अजीब तर्क दिया है। उनका कहना है कि RSS के लोगों का शादी नहीं करना, इसका पूरे स्कैंडल का मुख्य कारण है।

उन्होंने कहा, “RSS के लोग शादी नहीं करते, यह हनीट्रैप का मुख्य कारण है। संघ के लोगों को शादी करनी चाहिए। संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहन भागवत को भी शादी करनी चाहिए।”

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: One of the biggest reasons for this is that RSS people do not marry. RSS people should get married. Mohan Bhagwat should also get married. https://twitter.com/ANI/status/1177472132109856768 

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: SIT is doing the investigation. It all started since the times of Shivraj ji. More number of BJP leaders are involved in this. It has spread across 5-6 states now.

View image on Twitter
82 people are talking about this

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने आगे कहा, “मध्य प्रदेश में हनी ट्रैप का ये गैंग शिवराज सिंह चौहान के वक्त से चल रहा है। इस केस में कई भाजपा नेताओं के नाम सामने आएँगे। इस केस में कई भाजपा नेता शामिल हैं। ये गिरोह देश में 5 से 6 राज्यों में काम करता है।”

अब इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स उन्हें काफी ट्रोल कर रहे हैं। उनके इस बयान को घटिया करार देते हुए यूजर्स सवाल कर रहे हैं कि यदि संघ के लोगों को शादी करनी चाहिए तो फिर कॉन्ग्रेस के राहुल गाँधी कौन सी दुल्हनिया का इंतजार कर रहे हैं? ट्विटर पर लोग पूरे गाँधी परिवार को लेकर सवाल उठा रहे हैं और इस बयान की आलोचना कर रहे हैं।

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: One of the biggest reasons for this is that RSS people do not marry. RSS people should get married. Mohan Bhagwat should also get married. https://twitter.com/ANI/status/1177472132109856768 

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: SIT is doing the investigation. It all started since the times of Shivraj ji. More number of BJP leaders are involved in this. It has spread across 5-6 states now.

View image on Twitter

Krishna Pandey@krishnapandey60

राहुल गांधी कौन से दुल्हनिया का इंतजार कर रहे है ?

See Krishna Pandey’s other Tweets

इस बयान के बाद लोग मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की वायरल हुई तस्वीरों का मुद्दा भी उछालते नजर आए।

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: One of the biggest reasons for this is that RSS people do not marry. RSS people should get married. Mohan Bhagwat should also get married. https://twitter.com/ANI/status/1177472132109856768 

ANI

@ANI

Manak Agarwal, Congress on honey trapping issue in Madhya Pradesh: SIT is doing the investigation. It all started since the times of Shivraj ji. More number of BJP leaders are involved in this. It has spread across 5-6 states now.

View image on Twitter

Raghavendra S@ragh_twt

His master diggy did marry and was romancing and taking nude selfies with rajyasabha tv anchor while his first wife was on deathbed battling cancer.

See Raghavendra S’s other Tweets

लोगों ने अग्रवाल के बयान पर कहा कि ऐसा लगता है भाजपा वालों ने कॉन्ग्रेस को खत्म करने की सुपारी कॉन्ग्रेसियों को ही दे रखी है।

Mayank Sehgal@mayank_sehgal93

Kya chutiya bhar rakhe hai Congress ne

AJAY MISHRA@rdpajay

भाजपा ने कांग्रेस खत्म करने की सुपारी कांगियों को ही दे रखी हो ऐसा प्रतित होता है?

See AJAY MISHRA’s other Tweets

गौरतलब है कि 19 सितंबर 2019 को इंदौर नगर निगम के अधीक्षण इंजीनियर हरभजन सिंह की शिकायत पर इस पूरे गिरोह का आधिकारिक रूप से खुलासा हुआ था। जिसमें फिलहाल 6 आरोपित गिरफ्तार हैं, जिनमें महिलाएँ भी शामिल हैं।

इस कांड को देश का सबसे बड़ा ब्लैकमेलिंग सेक्स स्कैंडल कहा जा रहा है। इस मामले में जाँच में जुटी एसआईटी की टीम अब तक 4 हजार से ज्यादा फाइलें जुटा चुकी हैं और बाकी के मिलने का सिलसिला जारी है। बताया जा रहा है गिरोह के शिकंजे में कई शीर्ष नेता, आईएस अधिकारी, इंजिनियर और बड़े व्यापारी फँस चुके हैं। इसके अलावा इस सेक्स रैकेट में कई मीडियाकर्मियों के नाम भी सामने आ रहे हैं। लेकिन बता दें कि अन्य लोगों की तरह मीडियाकर्मी हनी ट्रैप रैकेट के शिकार नहीं थे, बल्कि दलाल थे।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *