Thursday , June 4 2020

UP: कोरोना के 41 मामले, लॉकडाउन में एक लाख फूड पैकेट्स और 7 लाख लीटर दूध अभी तक बांटे गए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 41 हो गई है। इसमें से 11 लोग ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। गुरुवार को यह जानकारी उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने दी। उन्होंने कहा कि राज्य में वर्तमान में आठ लैब मरीजों के सैंपल टेस्ट के लिए काम कर रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान जनता के सहयोग से इस महामारी पर भी हम काबू पा लेंगे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यना के आदेश पर राज्य में कम्युनिटी किचन की शुरुआत की गई है। लॉकडाउन में राज्य का तंत्र लोगों की लगातार मदद कर रहा है। अभी तक एक लाख फूड पैकेट्स और सात लाख लीटर दूध लोगों में बांटे गए हैं। किसी भी जरूरी चीज की लोगों को समस्या नहीं होगी। राज्य सरकार लगातार स्थिति पर नजर रखी हुई है।

ANI UP

@ANINewsUP

Chief Minister Yogi Adityanath has given permission to start community kitchens. 1 lakh food packets &7 lakh litre of milk has been distributed till now: Additional Chief Secretary (Home) Awanish Awasthi.

Twitter पर छबि देखें
310 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

दुकानें सुबह 6 बजे से लेकर 11 बजे तक खुली रहेंगी
इससे पहले लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान जरूरी सामान के लिए परेशान होने की जरूर है। सरकार ने पूरी व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि आवश्यक चीजों की सप्लाई लगातार हो रही है। इसके साथ ही जरूरी सामान की दुकानें सुबह 6 बजे से लेकर रात 11 बजे तक खुली रहेंगी। किसी भी चीज की कमी नहीं है। लोगों को राशन इकट्ठा करने की कोई जरूरत नहीं है।

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि हम लॉकडाउन को मॉनिटर कर रहे हैं। लोगों से अपील है कि वे अपने घरों में रहें। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान डॉक्टर, लैब टेक्निशियन, सफाईकर्मी, मीडिया से जुड़े लोग सहित उन सभी को पास दिया जाएगा, जिनका काम पर जाना जरूरी है।

ANI UP

@ANINewsUP

A total of 41 cases have been reported in Uttar Pradesh. Out of which, 11 people have been cured/discharged. Eight labs are working to test patients samples in the state: Awanish Kumar Awasthi, Additional Chief Secretary (Home)

Twitter पर छबि देखें
21 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

घबराने की जरूरत नहीं है- सीएम योगी
वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। लॉकडाउन के दौरान खाने-पीने की वस्तुओं और दवाओं की दिक्कत न हो, इसके लिए प्रदेश सरकार ने मोहल्लों की फुटकर किराना और दवा दुकानों को स्थानीय प्रशासन की इजाजत से खोलने के निर्देश दिए हैं। निर्देश हैं कि इस मामले में डीएम अपने स्तर से फैसला कर लें। ध्यान रखा जाए कि ऐसा करते समय कहीं कोई अव्यवस्था न होने पाए।

वहीं ऑनलाइन होम डिलिवरी के लिए ज़ोमैटो और स्विगी जैसी कंपनियों को भी इजाजत दी जाएगी। प्रदेश भर में खाद्य सामग्री की घर-घर सप्लाई के लिए 12 हजार सप्लाई वैन की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन के दौरान खाद्य सामग्री आदि की सप्लाई सुचारु बनाए रखने के लिए बुधवार को आला अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बैठक में हुए फैसलों की जानकारी दी।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति