Thursday , June 4 2020

सीएम योगी का निर्देश- यूपी के लोगों को देश के किसी भी कोने से मुफ्त में लाने की व्यवस्था की जाए

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया कि अन्य प्रदेशों को हर सम्भव मदद पहुंचाते हुए और रेलवे का सहयोग लेकर देश भर से प्रत्येक व्यक्ति को वापस यूपी लाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि ये सेवा प्रदेश सरकार की ओर से पूर्णतः निश्शुल्क है, किसी भी व्यक्ति को कोई शुल्क नहीं देना है। सीएम योगी ने ईद के त्योहार को देखते हुए लोगों से अपील की है कि वे घर पर ही ईद की नमाज अदा कर त्योहार मनाएं और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

शनिवार को शासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लॉकडाउन की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों की जानकारी पत्रकारो को देते हुए अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम योगी ने कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों की टेस्टिंग करने की विशेष आवश्यकता है ताकि संक्रमण नहीं फैले और जल्द ही इस पर नियंत्रण पाया जा सके।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि अबतक 1018 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें उत्तर प्रदेश में आ चुकी हैं। इन ट्रेनों में 13 लाख 54 हजार से अधिक लोग वापस प्रदेश आ चुके हैं। कुल मिलाकर 21 लाख लोग और श्रमिक विभिन्न माध्यमों और प्रदेशों से यूपी में आ चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 178 ट्रेनें और आने वाली हैं, जो आजकल में प्रदेश पहुंच जाएंगी। उन्होंने बताया कि प्रवासी कामगारों और श्रमिकों के लिए होम क्वारांटाइन की व्यवस्था की जा चुकी है, उनका पूरा डेटा इकट्ठा कर लिया गया है। आने वाले लोगों की भोजन-पानी की व्यवस्था का निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिया है।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि गोरखपुर में 163 ट्रेनों में दो लाख से अधिक लोग आए हैं जो कि पूरे देश में एक रिकॉर्ड है। वाराणसी में एक की जगह अब दो रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों के आने की व्यवस्था की गई है। हमारे प्रदेश में लगभग 52 स्टेशन ऐसे हैं, जहां पर ट्रेनें आ रही हैं और पहली बार पीलीभीत जैसी जगह पर भी 1200 लोगों को लेकर एक ट्रेन आयी है। उन्होंने बताया कि अबतक गुजरात से 397, महाराष्ट्र से 213, पंजाब से 171, दिल्ली से 59 समेत देश के विभिन्न प्रदेशों से लगातार कई ट्रेनें आ चुकी हैं। उन्होंने लोगों अपील करते हुए कहा कि दिल्ली से कोई पैदल या निजी वाहन से ना आए। दिल्ली से प्रतिदिन लगभग 10-12 ट्रेनों के चलने की व्यवस्था है, पर्याप्त संख्या में लोग वहां आ रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा कि क्वारंटाइन सेंटर में इच्छुक लोग जॉब कार्ड भी बनवा सकते हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रवासी श्रमिकों और कामगारों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराने के लिए एक वेबसाइट भी तैयार की जा रही है। इस वेबसाइट में राजस्व विभाग के माध्यम से, इंडस्ट्री में कहीं भी किसी कार्य की आवश्यकता के बारे में पूरी जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब कुल 863 कंटेनमेंट/हॉटस्पॉट जोन हैं, जो 485 थाना क्षेत्रों में। इनमें 7 लाख 80 हज़ार मकान हैं, जिसमें लगभग 43 लाख लोग रहते हैं। उन्होंने कहा कि हमारी अपील है कि जो भी लोग मार्केट और दुकानों पर जा रहे हैं, वो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। दुकानदार भी सावधानी बरतें। लॉकडाउन का उल्लंघन ना करें।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आज ही एक नई टेस्टिंग लैब का कार्य शुरू हुआ है। इस कार्य के लिए सीएसआर के तहत एलएनटी नामक कंपनी ने मुख्यमंत्री को 2 करोड़ के योगदान देने का प्रस्ताव दिया था जिसको मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है। उन्होंने बताया कि सीएम ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के कार्यों कि समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट में 2348 श्रमिकों के साथ 625 इंजीनियर भी कार्य कर रहे हैं। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे का कार्य भी तेज़ी से चल रहा है। आरबीआई द्वारा कम किए गए रेपो रेट का लाभ सभी बड़े प्रोजेक्ट्स को मिले, इसका निर्देश भी सीएम ने दिया।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति