Saturday , January 16 2021

अखिलेश यादव का करीबी है जौनपुर में दलितों पर बर्बरता का मास्टरमाइंड जावेद सिद्दीकी

जौनपुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के भदेठी गाँव में मंगलवार (जून 9, 2020) रात दलितों के साथ हुई बर्बरता के मामले में पुलिस ने अब तक कुल 35 लोगों को गिरफ्तार किया है। घटनाक्रम से जुड़े मुख्य आरोपितों में से एक की पहचान सपा नेता जावेद सिद्दीकी के रूप में हुई है। जावेद को लेकर कहा जा रहा है कि वह इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड है और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का करीबी है।

पत्रकार विकास भदौरिया ने जावेद और अखिलेश यादव की कुछ तस्वीरें ट्वीट करते हुए कहा है, “समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव का बेहद क़रीबी जावेद सिद्दकी निकला जौनपुर में दलितों पर बर्बरता का मास्टरमाइंड, पुलिस ने किया गिरफ़्तार।”

Vikas Bhadauria (ABP News)@vikasbha

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव का बेहद क़रीबी जावेद सिद्धीकी निकला जौनपुर में दलितों पर बर्बरता का मास्टरमाइंड, पुलिस ने किया गिरफ़्तार।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
1,724 people are talking about this

गौरतलब है कि मंगलवार रात दलितों के गाँव में समुदाय विशेष के हमले का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया है। इस वीडियो को वकील प्रशांत पटेल ने अपने ट्विटर पर शेयर किया है।

वीडियो में हम देख सकते हैं कि किस प्रकार उपद्रवी घटनास्थल पर उत्पात मचा रहे हैं और सामने खड़ी बाइक को भी खींचकर आग के हवाले कर देते हैं। इसके बाद सभी वहाँ से भाग जाते हैं।

यहाँ बता दें कि इस घटना के संबंध में पुलिस ने अब तक 57 नामजद, जबकि 100 अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। इसके अलावा 35 आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद, बाकी आरोपितों को पकड़ने के लिए दिन रात छापेमारी की जा रही है।

इस मामले पर स्वंय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। उन्होंने दलितों के घर फूँकने के मुख्य आरोपित नूर आलम और जावेद सिद्दीकी समेत सभी आरोपितों पर तत्काल एनएसए के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

सीएम ने इलाके के थाना प्रभारी के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है। सीएम योगी ने सभी दलित पीड़ितों को तत्काल आवास योजना के तहत आवास और अन्य सरकारी मदद देने की बात कही है।

पूरा मामला

जिले के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के गाँव भदेठी में मंगलवार (9 जून, 2020) को गाँव के ही शहबाज नामक लड़के का दलित बस्ती के बच्चों से बकरियाँ चराने को लेकर विवाद हो गया था। इसके बाद दोनों समुदाय के लोगों में दिन में कहासुनी हो गई, रात में मुस्लिम पक्ष के सैकड़ों लोगों ने मिलकर लाठी-डंडों से लैस दलित बस्ती में हमला बोल दिया।

Yogi Adityanath On Jaunpur Dalit House Fire; Uttar Pradesh Chief ...

इस दौरान आरोपितों ने हवाई फायरिंग, वाहनों में तोड़फोड़ और कई घरों को आग के हवाले कर दिया था। घटना में एक भैंस और तीन बकरियाँ जल कर राख हो गईं। वहीं एक सिलेंडर में लगी आग के बाद हुए विस्फोट से भारी नुकसान हुआ।

हालात को काबू करने के लिए कई थानों की पुलिस फोर्स को रात में ही तैनात कर दिया गया था। घटना के बाद गाँव भदेठू पहुँचे जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह व पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने घटना स्थल मुआयना किया और स्थिति को नियंत्रण करने में लगे रहे, जिसके बाद जिलाधिकारी ने हिंसा फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई करने की बात कही।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति