Wednesday , January 27 2021

राजनीति के लिये मोहब्बत कुर्बान, राज ठाकरे सोनाली को पत्नी बनाना चाहते थे, दिलचस्प है लव स्टोरी

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे के आज जन्मदिन है, अपने भड़काऊ बयानों से अकसर सुर्खियों में रहने वाले राज ठाकरे की निजी जिंदगी काफी दिलचस्प है, कभी खुद को बाल ठाकरे का उत्तराधिकारी मानने वाले राज ठाकरे ने बाद में शिवसेना से अलग होकर नई पार्टी बना ली, हालांकि वो महाराष्ट्र की सियासत में उम्मीद के मुताबिक सफल नहीं हो रहे, खैर, आज हम आपको उनकी जिंदगी के एक दिलचस्प किस्सा बताते हैं।

सोनाली बेंद्रे से जुड़ा नाम

ये किस्सा 90 के दशक का है, ये वो दौर था जब महाराष्ट्र खासकर मुंबई में बाला साहेब ठाकरे का सिक्का चलता था, सियासत से लेकर सिनेमा तक ठाकरे परिवार का दखल था, इसी दौर का एक चर्चित किस्सा है राज ठाकरे और एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे के मोहब्बत का, उस दौर में सोनाली के लिये लाखों दिल धड़कते थे, जिसमें एक नाम राज ठाकरे का भी था। दोनों के अफेयर के चर्चे बीटाउन से लेकर सियासी गलियारों तक थी, दोनों एक-दूसरे के प्यार में इस कदर डूबे हुए थे, कि शादी करना चाहते थे, लेकिन राज पहले से शादीशुदा थे, मामला यही फंस गया।

ताऊ ने किया मना

राज ठाकरे और सोनाली की नजदीकियों की खबर जब शिवसेना सुप्रीमो बाल ठाकरे तक पहुंची, तो उन्होने भतीजे से इस रिश्ते को खत्म करने के लिये कहा, उन्होने राज से दो टूक शब्दों में कह दिया कि शादीशुदा होने के बावजूद अगर वो एक्ट्रेस से दूसरी शादी करते हैं, तो इससे पार्टी और परिवार की छवि खराब होगी, साथ ही उनके राजनीतिक भविष्य पर भी असर पड़ेगा।

राजनीति के लिये मोहब्बत कुर्बान

ताऊ के मना करने पर राज ठाकरे अपने फैसले से पीछे हट गये, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उनका लंबे समय तक सोनाली से अफेयर चलता रहा, कहा जाता है कि शिवसेना सुप्रीमो की बात मानने के पीछे एक वजह ये भी थी, कि राज मानते थे कि बाला साहेब के बाद पार्टी की कमान उन्हें मिलेगी, इसलिये वो ताऊ के फैसले के खिलाफ नहीं जाना चाहते थे, उन्होने मोहब्बत की जगह राजनीति को चुना, हालांकि बाद में शिवसेना की कमान उद्धव ठाकरे को मिली, जिससे राज नाराज होकर शिवसेना छोड़ एक नई पार्टी बना ली।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति