Wednesday , January 27 2021

Inside Story: सरहद पर नहीं चली गोली, कंटीले तार वाले लाठी-डंडों से किया चीनी सैनिकों ने हमला

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच लद्दाख बॉर्डर पर गलवान घाटी के पास हालात गंभीर हो गए हैं. सोमवार रात को यहां भारत और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई, इसमें भारत के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं. इस बीच सूत्रों की मानें, तो चीनी सैनिकों ने इस दौरान कीलें लगी लठों से जवानों पर हमला किया.

सूत्रों की मानें तो जब बॉर्डर कमांडर की बैठक हुई तो उसमें तय हुआ कि PP14-15-17 पर चीन LAC के उस ओर जाएगा, लेकिन चीनी सैनिकों ने इसे मानने से इनकार किया गया. भारत की ओर से बार-बार चीन को समझाया गया, चीन ने इस दौरान हमला किया गया.

सूत्रों ने कहा कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सैनिकों पर पत्थरबाजी की, उनके पास लोहे के नाल, कीलें और लठ से भारत के सेना पर हमला किया. जो अफसर इस मामले को लीड कर रहे थे, उन्हें इसी पथराव-झड़प में काफी गहरी चोट आई हैं.

सूत्रों की मानें, तो भारत के 10-12 जवान घायल हुए हैं और चीन के भी इतने ही जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं. हालांकि, अभी पूरी तरह से सेना की ओर से आधिकारिक बयान दिया जाएगा.

लेकिन इस बीच चीन ने उल्टा भारत पर इल्जाम लगाना शुरू कर दिया है. चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि भारत की ओर से घुसपैठ की कोशिश की गई, जिसके बाद दोनों देशों के सैनिकों में भिड़ंत हुई. अब हम भारत से अपील करते हैं कि एकतरफा एक्शन ना लें.

इस पूरे मामले को लेकर भारतीय सेना की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है, ‘गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई. इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं. दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं.’

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति