Monday , July 6 2020

सीएम योगी आदित्यनाथ बोले-जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाता है योग

लखनऊ। कोरोना की महामारी के बीच ‘योग एट होम’ के पालन के साथ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उत्तर प्रदेश में पूरे उत्साह के साथ मनाया गया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा सहित सरकार के सभी मंत्रियों ने सपरिवार या अकेले ही योग कर स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता का संदेश दिया। राज्यपाल ने कहा कि योग से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। वहीं, मुख्यमंत्री ने योग को ऋषि प्रसाद की संज्ञा देते हुए कहा कि इसे अपने नियमित व्यवहार में शामिल कर कोरोना नामक रक्तबीज को पराजित किया जा सकता है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (21 जून) पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में अपने सरकारी आवास पर योग साधना की। लखनऊ में ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य तथा डॉ. दिनेश शर्मा के अलावा योगी आदित्यनाथ कैबिनेट के मंत्रियों तथा मुख्य सचिव आरके तिवारी व डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने भी कोरोना संक्रकण के कहर के बाद भी अपने-अपने घरों में योग किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि योग हमारे लिए प्राचीन भारतीय ऋषियों की आध्यात्मिक परंपरा का प्रसाद है। उन्होंने कहा कि आज पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरा विश्व भारत के साथ आत्मीय संवाद कर रहा है। योग हमारे जीवन से जुड़े भौतिक, मानसिक,आत्मिक, आध्यात्मिक आदि सभी पहलुओं पर काम कर जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाता है। शिवावतारी महायोगी गुरु श्री गोरक्षनाथ जी ने सर्वजन हेतु योग को सुलभ बनाया। इस वर्ष योग एट होम की संकल्पना के साथ सभी को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं।

उन्होंने कहा कि योग न केवल लोगों को आपस में जोड़ता है वरन स्वास्थ्य के साथ मानसिक उत्थान का सबसे बड़ा मार्ग निर्धारक है। यही वजह है कि भारत की इस परंपरा को वैश्विक स्वरूप प्राप्त हो सका है। मुख्यमंत्री ने बताया कि केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने एक कॉमन योग प्रोटोकॉल जारी किया है। इसके तहत योग करते हुए लोग अपना फोटो या वीडियो उस पर अपलोड कर सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार अच्छे योगाभ्यासियों को पुरस्कृत भी करेगी।

राज्यपाल ने किया योगाभ्यास

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज प्रातः राजभवन प्रांगण में योगाभ्यास किया।

योग दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए राज्यपाल ने कहा कि प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने पर हम शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं तथा रोगों से लड़ने की हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि योग हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं। यह दिनचर्या को दुरुस्त करने के साथ हमारे शरीर की प्रतिरोधन क्षमता का विकास करता है, जिससे कि हम गंभीर बीमारियों से भी भिड़ सकते हैं।

हमको पता होना चाहिए कि अपने काम को सही ढंग से करना ही योग है। निष्काम कर्म को बिना किसी स्वार्थ के करना भी योग है। योग एक ऐसी प्रकिया है जिसकी अवधारणा से हम परिवार और समाज के रूप में एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे।

डॉ. दिनेश शर्मा ने अपने आवास पर पत्नी के साथ योगभ्यास किया। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर कोविड 19 के परिप्रेक्ष्य में शारीरिक व मानसिक प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए घर पर घर पर योग व्यायाम करते हुए अपने जीवन की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हों।

आज अंतराष्ट्रीय योग दिवस के इस पावन अवसर पर आप सभी को उत्तम स्वास्थ्य की मंगलकामनाएं। योग न सिर्फ मनुष्य के मस्तिष्क और शरीर की एकता को संगठित करता है बल्कि यह मनुष्य के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने का काम करता है। छठे अंतराष्ट्रीय योग दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

सरकार के मंत्रियों ने घर पर योग, परिवार के साथ योग के संदेश का खुद भी पालन किया। उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने अपने लखनऊ स्थित सरकारी आवास पर पत्नी के साथ तो उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अकेले ही घर पर योग किया। चिकित्सा शिक्षा एवं वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने अपने शाहजहांपुर स्थित आवास तो औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कानपुर स्थित आवास पर योग किया

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी लखनऊ में अपने आवास पर योग अभ्यास किया। उन्होंने सभी से योग को दिल से अपनाने की अपील भी की है। इसी तरह जलशक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह, ग्राम विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा, विधायी एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक, उद्यान मंत्री श्रीराम चौहान, नागरिक उड्डयन मंत्री नंदगोपाल नंदी, प्रांतीय रक्षा दल एवं होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान ने भी योग किया।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर लखनऊ में अपने आवास पर  फिजिकल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए ग्राम विकास एवं समग्र ग्राम विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह ने योगाभ्यास किया। वह योग को निरोग रखने का साधन भी मानते हैं।

प्रांतीय रक्षक दल, होम गार्ड तथा सैनिक कल्याण मंत्री चेतन चौहान ने भी अपने आवास पर योग का अभ्यास किया। पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान ने योग को फिटनेस का मूल मंत्र बताया है। प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने भी अपने परिवार के साथ योग किया।

व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल, पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण मंत्री अनिल राजभर, बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी, बाल विकास एवं पुष्टाहार राज्यमंत्री स्वाति सिंह, खेल एवं युवा कल्याण राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार उपेंद्र तिवारी और प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी व आकांक्षा समिति की अध्यक्ष अर्चना तिवारी ने सपरिवार योग किया।

यूपी जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह जी ने लखनऊ स्थित अपने आवास पर छठे अंतर्राष्ट्रीय योगदिवस पर योगाभ्यास किया। उन्होंने कहा कि कहा कि प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने पर हम शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं। रोगों से लड़ने की हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। युवा कल्याण व खेल राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार उपेंद्र तिवारी ने योग दिवस पर बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि योग के अभ्यास से आप शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फिट रहते हैं। उन्होंने योग दिवस के अवसर पर अपने आवास पर योगा किया।

गोंडा की पुलिस लाइन में डीआइजी डॉ. राकेश सिंह ने आनलाइन योग का प्रशिक्षण दिया। उन्होंने योग दिवस पर रविवार को घर में ही योग का कार्यक्रम करने के साथ पुलिस लाइन में जवानों को आनलाइन प्रशिक्षण के माध्यम से योग का अभ्यास कराया। गोंडा में ही लाल बहादुर शास्त्री महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयं सेवक ने घर में ही योगाभ्यास किया। मुरादाबाद में डॉ. भीमराव आम्बेडकर पुलिस अकादमी में भी जवानों के साथ सभी शीर्ष अधिकारियों ने पूरे जोश तथा मनोयोग से योग का अभ्यास किया। घने बादलों के बीच इन्होंने योग का अपनाने का प्रण भी किया।

लखनऊ में सीआईएसफ के जवानों एयरपोर्ट के यूनिट पार्क में योग किया। इस दौरान फिजिकल डिस्टेंसिंग का ध्यान भी रखा गया। लखनऊ में ही मनकामेश्वर मंदिर के मनकामेश्वर उपवन में महंत देव्या गिरि ने 50-55 लोगों के साथ योग अभ्यास किया। डॉ. राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट के योग विशेषज्ञ डॉ. ओएन अवस्थी की देखरेख में वहां के हॉल में डाक्टर्स तथा उनके परिवार के लोगों ने योग का अभ्यास किया।

कोरोना वायरस के संक्रमण काल में भी प्रदेश में हर जगह पर छठें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर बड़ी संख्या में लोग जगह-जगह पर अभ्यास कर रहे हैं। फिजिकल डिस्टेसिंग का ख्याल रखते हुए लोग अपनी कालोनी के पार्क या फिर अपने घर की छत पर ही योग अभ्यास कर रहे हैं।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति