Friday , April 19 2024

बिकरू गांव पहुंचे आईजी मोहित अग्रवाल, कहा-संदेह के दायरे में पूरा चौबेपुर थाना

कानपुर। चौबेपुर के बिकरू गांव में मुठभेड़ के दौरान सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों के शहीद होने की घटना में शामिल रहे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तलाश में जुटी पुलिस कड़ी दर कड़ी आगे बढ़ रही हैं, हालांकि पुलिस अभी विकास को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पुलिस ने घटना में शामिल रहे विकास के 21 साथियों की सूची तैयार की है, जिसमें शनिवार रात एक साथी को मुठभेड़ में पकड़ा है, जबकि दो साथियों को घटना के दूसरे दिन ही मुठभेड़ में मार गिराया था। एडीजी ने विकास दुबे को मोस्टवांटेड अपराधी की सूची में शामिल करके पचास हजार से बढ़ाकर इनामी राशि एक लाख रुपये कर दी है।

 

-कानपुर में भी विजय नगर क्षेत्र में तीन लावारिस कार मिलने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है, विकास दुबे से किसी कनेक्शन को लेकर पुलिस ने हर बिंदु पर जांच शुरू कर दी है।

-औरैया में रविवार सुबह लखनऊ के नंबर की लावारिस कार मिलने से सनसनी फैल गई, जो अतुल दुबे के नाम के व्यक्ति बताई जा रही है। पुलिस इस कार से विकास दुबे के भागने की आशंका जता कनेक्शन तलाश रही है।

-एडीजी ने फरार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर घोषित इनाम की राशि बढ़ाकर एक लाख रुपये कर दी है, साथ ही उसका नाम मोस्टवांटेड अपराधियों की सूची में डाल दिया गया है। अभी तक उसपर पचास हजार का इनाम घोषित था।

-पुलिस को आठ पुलिस कर्मियों की हत्या में विकास दुबे के साथ शामिल रहे दयाशंकर अग्निहोत्री उर्फ कल्लू की लोकेशन कल्याणपुर इलाके में मिली, इसपर रात में पुलिस ने घेराबंदी करके कल्लू को गिरफ्तार कर लिया है, पैर में गोली लगने पर पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने विकास दुबे के बारे में उससे पूछताछ करने की बात कही है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch