Sunday , May 26 2024

Reliance Retail में निवेश की तीव्र इच्छा रखते हैं निवेशक, अगली तिमाहियों में वैश्विक साझेदारों को किया जाएगा शामिल

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बुधवार को कहा कि उनके ग्रुप के रिटेल वेंचर में रणनीतिक व वित्तीय निवेश के लिए निवेशकों ने तीव्र इच्छा प्रकट की है। वे आरआईएल की 46 वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) में बोल रहे थे। अंबानी ने कहा, ‘रिलायंस रिटेल में रणनीतिक और वित्तीय निवेशक बड़ी इच्छा के साथ निवेश करना चाहते हैं। हम अगली कुछ तिमाहियों में रिलायंस रिटेल में वैश्विक साझेदारों और निवेशकों को शामिल करेंगे।’

मुकेश अंबानी ने कहा, हमने किराणा पार्टनर्स के साथ JioMart ग्रॉसरी मॉडल को शुरुआती दौर में  सफलतापूर्वक संचालित किया है। जियोमार्ट ग्रॉसरी प्लैटफॉर्म के बीटा संस्करण को 200 शहरों में संचालित किया जा रहा है। प्रतिदिन के ऑर्डर की संख्या 2.5 लाख को पार कर गई है और इसमें हर दिन बढ़ोत्तरी हो रही है।’

कंपनी की किराणा रणनीति का मुख्य हिस्सा किसानों के साथ जुड़ना और उनके ताजा उत्पादों को सीधे घरों तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा, ‘इससे किसानों की आय तेजी से बढ़ेगी और वे अधिक उत्पादन करने के लिए प्रोत्साहित होंगे।’

उन्होंने कहा, ‘रिलायंस रिटेल के दो-तिहाई से अधिक करीब 12,000 स्टोर्स टियर-2, टियर-3 और टियर-4 कस्बों में संचालित हो रहे हैं। इनमें 80 फीसद से अधिक फल व सब्जियां सीधे किसानों से ली जाती है।’

मुकेश अंबानी ने कहा, ‘रिलायंस रिटेल भारत का सबसे बड़ा और सबसे अधिक लाभदायक खुदरा व्यापार है, इसका राजस्व 1,62,936 करोड़ और EBITDA 9,654 करोड़ का है। यह दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ता खुदरा विक्रेता है और शीर्ष 100 वैश्विक खुदरा विक्रेताओं में केवल एकमात्र भारतीय कंपनी है।’

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch