Monday , May 27 2024

AMU में हिजाब पर संग्राम, सवाल उठाने वाली हिंदू छात्रा को धमकी

अलीगढ़। देश का जाना-माना अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय एक बार फिर विवादों में है. यहां पर हिंदू छात्र-छात्राओं के साथ कैसा व्यवहार होता है? इसको लेकर एक हिंदू छात्रा ने ट्वीट किया. इसमें उसने हिंदू लड़कियों को एएमयू के हॉस्टल में जबरदस्ती खुद को ढक कर रखने का दबाव डाले जाने की बात लिखी है.

छात्रा के इस ट्वीट पर एएमयू के एक छात्र ने धमकी भरा रिप्लाई भी किया है, ‘इंशाअल्लाह आपको भी हिजाब पहनाया जाएगा, वह भी पीतल का.’ इसके बाद डरी हुई छात्रा ने मामले में एएमयू प्रशासन से लेकर पुलिस को शिकायत भेजी है. एएमयू प्रशासन ने मामले में जांच बिठा दी है, वहीं पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है.

क्या है पूरा मामला

एएमयू में पढ़ने वाली एक हिंदू छात्रा ने ट्विटर पर लिखा, ‘एक और बात हिंदू लड़कियों को एएमयू हॉस्टल में खुद को कवर करने के लिए मजबूर किया जाता है. भारतीय शिक्षा हमें कवर रहने के लिए सिखा रही है अन्यथा यह हमारे पहनावे किसी आदमी को उत्तेजित करेंगे.’

एएमयू के स्टूडेंट ने दी धमकी

इस ट्वीट के बाद छात्रा एएमयू के अन्य छात्रों के निशाने पर आ गई. एक छात्र ने उसे रिप्लाई करते हुए लिखा है कि कौन से हॉस्टल में आपको नंगा घुमने से मना किया जा रहा है. साथ ही उसने लिखा कि लॉकडाउन के बाद इंशा अल्लाह आपको भी हिजाब पहनाया जाएगा, वह भी पीतल का. इसके बाद कई छात्रों ने विवादित टिप्पणियां की.

इसके बाद छात्रा ने अलीगढ़ के एसएसपी को छात्र के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए एक प्रार्थना पत्र दिया, जिसके बाद पुलिस ने थाना सिविल लाइंस में पीड़ित छात्रा की तहरीर के आधार पर धारा 504,506,67 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है. छात्रा बुलंदशहर की रहने वाली है. हिन्दू छात्रा के इस मैसेज के बाद कैम्पस में राजनीति तेज हो गई है.

एएमयू प्रोफेसर ने क्या कहा

इस मामले पर एएमयू के प्रोफेसर मुफ्ती जाहिद ने कहा कि कोई मुसलमान छात्र एएमयू में किसी भी मुस्लिम लड़की को भी अखलाकी तौर पर कह सकता है कि ऐसे कपड़े ना पहने, जिससे कि कोई दिक्कत हो. यह हिंदुस्तान की तहजीब है. अगर कोई मुसलमान लड़का किसी गैर मुस्लिम लड़की से हिजाब का इस्तेमाल करने की बात कह रहा है तो ये गलत है.

बीजेपी की पूर्व मेयर ने क्या कहा

बीजेपी की पूर्व मेयर शकुंतला भारती ने कहा कि एएमयू की एक छात्रा पर इस तरीके के शब्दों का इस्तेमाल किया गया है, उसकी जितनी निंदा की जाए उतनी कम है. उसको शर्म नहीं आती, कह रहा है कि पीतल से बना हुआ इस्लामिक पोशाक हिजाब छात्रा को पहनाया जाएगा. वह भी हमारी बेटी है, लेकिन इसको कहने से पहले सोचना चाहिए.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch