Tuesday , May 21 2024

अपने CM पिता से जाकर ये 7 सवाल पूछो: सुशांत की मौत के मामले में कंगना ने आदित्य ठाकरे की लगाई क्लास

सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या के मामले में बिहार पुलिस द्वारा सीबीआई जाँच की सिफारिश के बाद अभिनेत्री कंगना रनौत ने सवाल पूछे हैं। अब सीबीआई जाँच का आदेश भी दे दिया गया है। सुशांत की पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत के मामले में उपजे विवादों के बाद आदित्य ठाकरे ने खुद को पाक-साफ बताया है। कंगना रनौत ने उनके बयान पर प्रक्रिया देते हुए 7 सवालों की झड़ी लगा दी।

उन्होंने कहा कि किस तरह की गंदी राजनीति कर के उद्धव ठाकरे ने सीएम पद पाया था, ये किसी से छिपा नहीं है। उन्होंने आदित्य से कहा कि वो अपने पिता से ये 7 सवाल पूछें। नीचे हम कंगना के सातों सवालों को आपके समक्ष पेश कर रहे हैं, जो उन्होंने आदित्य ठाकरे से अपने पिता से पूछने को कहा था:

  1. सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रही रिया चक्रवर्ती फ़िलहाल कहाँ हैं?
  2. सुशांत सिंह राजपूत की अप्राकृतिक मौत के मामले की एफआईआर मुंबई पुलिस ने क्यों नहीं दर्ज की?
  3. जब फ़रवरी 2020 में सुशांत सिंह राजपूत की जान को खतरे के बारे में मुंबई पुलिस को आगाह किया गया था, बावजूद उसके उनकी लाश मिलने के बाद पहले ही दिन मुंबई पुलिस ने इसे आत्महत्या क्यों कह दिया?
  4. उनकी हत्या से पहले उन्होंने किस-किस से बात की थी, इसका पता लगाने के लिए फॉरेंसिक विशेषज्ञों की मदद से उनके फोन के पिछले एक सप्ताह के कॉल एवं मैसेज का डेटा क्यों नहीं चेक करवाया गया?
  5. पटना के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटाइन कर के क्यों रखा गया है?
  6. आखिर महाराष्ट्र सरकार सीबीआई जाँच से डर क्यों रही है?
  7. आखिर सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया और उसके परिवार वालों ने उनके सारे रुपए क्यों लूट लिए?

कंगना रनौत ने स्पष्ट किया कि इन सवालों का राजनीति से कोई लेनादेना नहीं है। बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में केंद्र सरकार ने सीबीआई जाँच का आदेश दिया है, जिसके बाद अब इस मामले में न्याय मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। आदित्य ठाकरे ने खुद के ऊपर लग रहे आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि वो बालासाहब के पोते हैं और ऐसा कोई गलत कार्य नहीं कर सकते।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch