Sunday , May 26 2024

राम मंदिर बनाने को लेकर धमकीभरा ऑड‍ियो वायरल, देश का माहौल बिगाड़ने की कोशिश; FIR दर्ज

लखनऊ। राजधानी में शनिवार को मीडिया कर्मियों व अन्य लोगों के फोन पर अलग अलग नम्बरों से फोन कर धमकी भरा ऑडियो सुनाया गया है। राम मंदिर के निर्माण से संबंधित ऑडियो वायरल होने के बाद पुलिस महकमा हरकत में आया और हजरतगंज कोतवाली में एफआइआर दर्ज की गई। पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक अज्ञात नम्बर से लोगों को फोन आए हैं। फोन करने वाला भड़काऊ बयान दे रहा है। मामले की छानबीन की जा रही है। एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्र ने बताया कि दारोगा महेश दत्त शुक्ला की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज की गई है। यूसुफ अली नाम के युवक ने कई मीडियाकर्मियों के मोबाइल फोन पर वीआईओपी नम्बर से कॉल किया था। फोन करने वाले ने राष्ट्र विरोधी और धार्मिक भावना भड़काने वाली बात कही है। इससे शांति व्यवस्था कभी भी भंग हो सकती है।

क्‍या कहा गया है ऑड‍ियों में 

ऑडियो में आरोपित कह रहा है कि …मेरा नाम यूसुफ अली है। मेरा पैगाम भारत मे रहने वाले मुस्लिम भाई बहनों के लिए है। राम मंदिर का निर्माण भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने की शुरुआत है। मेरी मुस्लिम भाई बहनों से अपील है कि आइए हम सब मिलकर 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ध्वजारोहण करने से रोकें। हमें सिख भाई बहनों से सबक सीखना चाहिए… हमें भी हिंदुस्तान के मुसलमानों के लिए अलग मुल्क बनाने के लिए काम करना चाहिए। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक छानबीन में धमकी देने वाला नम्बर देखने पर विदेश का प्रतीत हो रहा है। इस मामले में जो भी व्यक्ति दोषी पाया जाएगा, उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने अपील है कि अगर किसी के पास ऐसी कॉल आती है तो वह 9454401508 पर उस संदेश को भेज दें।

फेसबुक पर डाला भड़काऊ पोस्ट, गिरफ्तार

फेसबुक पर भड़काऊ कमेंट करने के आरोप में हजरतगंज पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपित ने लोगों की धार्मिक भावना भड़काई थी। इससे शांति भंग की प्रबल आशंका हो गई थी। एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्र के मुताबिक माहौल बिगड़ता देख आरोपित के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई। छानबीन के दौरान उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

इंस्पेक्टर हजरतगंज अंजनी कुमार पांडेय ने बताया कि मूलरूप से गोंडा के महारानीगंज स्टेशन रोड निवासी इमरान उर्फ करीमुल्लाह ने सोशल मीडिया पर श्रीराम मंदिर से संबंधित भड़काऊ पोस्ट डाला था। इससे समाज में तनाव व्याप्त हो गया। साइबर सेल ने सोशल मीडिया की मॉनिटरिंग के दौरान पोस्ट देखकर हजरतगंज कोतवाली में इमरान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस टीम गठित कर उसे दबोच लिया गया।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch