Saturday , September 19 2020

‘गोबर मूत्र पीने वाला… जिन्दा जलाओ हराम के औलाद को… रसूलल्लाह की शान में गुस्ताखी’ – बेंगलुरु दंगे के बाद खतरे में नवीन

पैगंबर मोहम्मद को लेकर सोशल मीडिया पर किए गए एक पोस्ट से बेंगलुरु में मुस्लिमों की भीड़ द्वारा किए गए दंगों से ऐसी हिंसा भड़की कि इस तोड़-फोड़ और आगजनी में तीन लोगों की मौत हो गई और करीब 60 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए।

गत मंगलवार, यानी 11 अगस्त की रात को बेंगलुरु के पुलाकेशी नगर में पैगंबर मोहम्मद को लेकर एक पोस्ट से नाराज मुस्लिम समुदाय ने कॉन्ग्रेस विधायक अंखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास के बाहर जमकर उत्पात, तोड़-फोड़ और आगजनी की।

आक्रोशित मुस्लिमों की भीड़ ने पुलाकेशी नगर के विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के आवास और डीजे हल्ली थाने को निशाना बनाया, क्योंकि कॉन्ग्रेस विधायक के भतीजे नवीन द्वारा पैगम्बर मोहम्मद को लेकर एक कथित आपत्तिजनक टिपण्णी की गई थी।

सोशल मीडिया पर अभी तक भी नवीन को लेकर मुस्लिम समुदाय के युवकों में गुस्सा देखा जा रहा है और उसे जान से मारने की बातें कही जा रहीं हैं। इन्हीं में से एक ‘ज्वाइन AIMIM’ नाम के फेसबुक ग्रुप में नवीन की तस्वीर शेयर की गई हैं, जिसके कमेंट्स में नवीन को लेकर बेहद भयावह टिप्पणियाँ की जा रही हैं।

आरिफ खान नाम के युवक द्वारा नवीन की एक तस्वीर शेयर की गई है, जिसमें संदेश लिखा है – “यही वो कॉन्ग्रेस MLA का नेफ्यू है, जिसने रसूलल्लाह की शान में गुस्ताखी की है..।”

इस पोस्ट के कमेंट्स में सलमान अंसारी और सरताज ने नवीन को ‘लानत’ दी हैं। अन्सीर बाशा ने लिखा है – “इस को फॉरवर्ड मत करो, सब्र करो और इसका हश्र देखो आगे।”

मुराद आलम ने लिखा है – “इसको मारो।”

शादाब अंसारी ने पैगम्बर के कथित अपमान करने के पर नवीन के लिए लिखा है – “इसको तो चौक पर खड़ा कर के जिन्दा जला दिया जाए, वो भी सजा कम है इस हराम के औलाद को।”

वहीं, मोहम्मद सलीम मंसूरी ने नवीन के लिए उसी भाषा का इस्तेमाल किया है, जो कि पुलवामा आतंकी हमले के मुख्य अभियुक्त अहमद डार ने इस्तेमाल की । सलीम मंसूरी ने लिखा है – “शैतान की औलाद गुफाओं में पैदा हुआ है, ये हरामखोर हरामी गन्दगी पनौती गोबर मूत्र पैशाब पीने वाला हराम की औलाद सूअर शक्ल से लग रहा है गंदगी 1001 %%%%%%%%%% से ज्यादा सत्य है, सच है, इसकी मौत तय है 1001%।”

जावेद खान ने लिखा है – “गोली मारो कुत्ते को।”

इस पूरे पोस्ट में कई लोगों ने नवीन को गोली मारने और जान से मार देने की बात की हैं। जैसा कि इस स्क्रीनशॉट में आप देख सकते हैं –

उल्लेखनीय है कि बेंगलुरु में मुस्लिम भीड़ द्वारा किए गए दंगों के दौरान उग्र मुस्लिम भीड़ डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन के बेसमेंट में घुस गई और कथित तौर पर 200-250 वाहनों में आग लगा दी। खबरों के मुताबिक, कॉन्ग्रेस विधायक के आवास पर तोड़फोड़ करने वाली मुस्लिम भीड़ ने मंगलवार (अगस्त 11, 2020) को पुलिस थाने में यह मानकर तोड़फोड़ और वाहनों को क्षतिग्रस्त किया कि पुलिस ने आरोपितों को हिरासत में रखा है।

जिन पुलिसकर्मियों ने दंगाइयों को रोकने की कोशिश की, उन पर भी मुस्लिम भीड़ ने हमला किया, जिसके परिणामस्वरूप 60 से अधिक पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए। मंगलवार रात पूर्वी बेंगलुरु में भड़की इस हिंसा में 3 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति