Sunday , May 26 2024

विधायक विजय मिश्रा MP में अरेस्ट, बेटी बोली-गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए!

भदोही। पूर्वांचल के चर्चित विधायक विजय मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद उनकी बेटी रीमा मिश्रा सामने आई हैं. विधायक मिश्रा की बेटी रीमा ने कहा है कि पुलिस मेरे पिता को सही सलामत कोर्ट तक लाए. विकास दुबे की तरह फेक एनकाउंटर नहीं होना चाहिए. उन्होंने आशंका जताई कि मेरे पिता के साथ कुछ भी हो सकता है. रीमा ने कहा कि इस बार गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए.

भदोही के ज्ञानपुर से विधायक विजय मिश्रा को शुक्रवार के दिन मध्य प्रदेश के आगर मालवा में गिरफ्तारी के कुछ देर बाद ही रीमा मिश्रा सामने आईं. रीमा ने बताया कि अपनी मां के लिए अग्रिम जमानत की याचिका कोर्ट में लगाई थी. इसी दौरान किसी ने बताया कि मेरे पिता को एमपी में गिरफ्तार कर लिया गया है. एसपी पुलिस की ओर से बताया गया है कि विजय मिश्रा गिरफ्तार कर लिए गए हैं. रीमा ने कहा कि इस समय मैं बहस की स्थित में नहीं हूं. केवल उनसे पूछना चाहती हूं कि वहां मेरे पिताजी किसकी कस्टडी में हैं.

रीमा मिश्रा ने कहा कि क्या वे यूपी पुलिस की कस्टडी में हैं? कैसे दोनों पुलिस ने कोआर्डिनेट किया है? अब मैं उनसे केवल यह कहना चाहती हूं कि मेरे पिता को सही सलामत कोर्ट तक लाया जाए. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि पुलिस अधीक्षक पूरी प्रक्रिया को अपने अंडर में लें. विकास दुबे जैसा फेक एनकाउंटर मत कीजिये. रीमा ने कहा कि मेरी यूपी सरकार से भी एक ही अपील है कि अगर कोई अपराध करता है तो उसके लिए अदालत है. कृपया फेक एनकाउंटर मत कीजिये. इस बार कोई गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए.

इससे पहले एमपी के आगर मालवा जिले में विधायक को गिरफ्तार करने की जानकारी एसपी ने मीडिया को दी थी. एसपी के अनुसार भदोही से पुलिस टीम विधायक को अपनी कस्टडी में लेने के लिए रवाना हो गई है. दो दिन पहले ही विधायक ने अपने एनकाउंटर की आशंका जताई थी. गुरुवार की रात से अचानक उनकी एमएलसी पत्नी रामलली मिश्रा भी लापता हो गई हैं.

विधायक विजय मिश्रा पर पिछले दिनों गुंडा एक्ट लगा था. इसके बाद विधायक, उनकी पत्नी रामलली मिश्रा और बेटे विष्णु मिश्रा पर पड़ोसी कृष्णमोहन तिवारी ने मुकदमा दर्ज कराया था. तीनों पर मारपीट करने और मकान पर कब्जे का आरोप लगाया था. 8 अगस्त को मुकदमा दर्ज होने के बाद से ही जांच कर रही पुलिस विधायक विजय मिश्रा, उनकी एमएलसी पत्नी रामलली मिश्रा और उनके बेटे विष्णु मिश्रा की तलाश कर रही थी.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch