Monday , September 28 2020

सुनील गावस्कर ने कहा- मेरी आखिरी ख्वाहिश होगी धोनी का 2011 WC विनिंग छक्का देखना

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और स्टार क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने इंटरनैशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। धोनी ने सबको चौंकाते हुए 15 अगस्त की शाम इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर करते हुए इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की। धोनी के संन्यास पर तमाम दिग्गज क्रिकेटर्स अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। इस बीच टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर और टेस्ट क्रिकेट में सबसे पहले 10,000 रन पूरा करने वाले सुनील गावस्कर ने धोनी के लिए कुछ खास बातें कही हैं। गावस्कर ने कहा कि अगर उन्हें पता हो कि वो मरने वाले हैं, तो वो महेंद्र सिंह धोनी का 2011 वाला विनिंग छक्का देखना चाहेंगे।

उन्होंने आजतक पर कहा, अगर मुझे पता है कि इस दुनिया में मेरे कुछ आखिरी क्षण बचे हैं, तो मैं यह कहूंगा कि मुझे वो शॉट दिखा दीजिए, जहां पर महेंद्र सिंह धोनी ने वो छक्का मारकर भारतीय क्रिकेट टीम को वर्ल्ड कप जिता दिया है। वो शॉट को देखकर दुनिया से अलविदा करने में बहुत मजा आएगा। वर्ल्ड कप जीतने के बाद मैं पिच पर गया था, हमने मिट्टी लेकर वहां अपने सिर पर लगाई थी। भारतीय टीम ने 28 साल बाद वो जीत हासिल की थी। वो एक इमोशनल पल था, सबके लिए, सिर्फ क्रिकेटरों और पूर्व क्रिकेटरों के लिए नहीं बल्कि पूरे भारत वर्ष के लिए। उन्होंने जिस आसानी से वो छक्का मारा था, वो पल ऐसा था जो हमेशा आपको याद रहेगा।’

धोनी इकलौते ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने अपनी कप्तानी में टीम को तीन आईसीसी ट्रॉफी जिताई हैं। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी जीती। 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ नॉटआउट 91 रनों की पारी खेली थी। धोनी ने विनिंग शॉट लगाते हुए भारत को 28 साल बाद वर्ल्ड कप खिताब दिलाया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति