Tuesday , May 28 2024

सुदीक्षा भाटी मौत मामला: घटना के बाद आरोपियों ने मॉडिफाई करा ली थी बुलेट

सुदीक्षा भाटी मौत मामला: घटना के बाद आरोपियों ने मॉडिफाई करा ली थी बुलेटबुलंदशहर। अमेरिका (America) में पढ़ने वाली होनहार छात्रा सुदीक्षा भाटी (Sudiksha Bhati) की मौत के मामले में रविवार को पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. इस मामले में एसएसपी और डीएम ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि आरोपी दीपक सोलंकी और राजू ने घटना के बाद बुलेट को मॉडिफाई करवा दिया था. उन्होंने बताया कि दूसरे दिन हंगामा बढ़ने के बाद आरोपी घबरा गए थे. पुलिस पूछताछ में दीपक ने कबूल किया है कि उसने घटना के बाद बुलेट को मॉडिफाई कराई थी. एसएसपी के मुताबिक घटना के एक दिन बाद उन्होंने बुलेट को दूसरे रंग से रंगवा दिया जबकि इंडिकेटर, साइलेंसर, नंबर प्लेट आदि बदलवा दिए ताकि पुलिस गाड़ी की पहचान न कर पाए.

सुदीक्षा की मौत महज एक्सीडेंट
एसएसपी ने प्रेस कांफ्रेंस में एक बात साफ कर दी कि सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक सुदीक्षा भाटी के साथ किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं हुई. यह एक महज सड़क हादसा था. पूरी जांच और रास्ते में लगे सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक जिन पर आरोप लगाया जा रहा है वो आगे चल रहे हैं. पुलिस ने मीडिया को सीसीटीवी के हिसाब से पूरी घटना समझाई. पुलिस के मुताबिक बाइक आगे चल रही थी और दोनों के बीच दूरी करीब एक किलोमीटर की थी.

दो गिरफ्तार
एसएसपी के मुताबिक इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी का नाम दीपक चौधरी और राजू है. एसएसपी के मुताबिक एक आरोपी जो बुलेट चला रहा था वह 26 साल का था. दूसरा 56 साल का है जो राज मिस्त्री का काम करता है.

प्रत्यक्षदर्शी को भी किया पेश
मामले में पुलिस ने उस व्यक्ति को भी मीडिया के सामने पेश किया जिसके मोबाइल फ़ोन से सुदीक्षा के परिजनों को हादसे की जानकारी दी थी. प्रत्यक्षदर्शी हेमंत शर्मा ने भी इस बात की तस्दीक की कि यह महज एक हादसा था और सुदीक्षा की मौके पर ही मौत हो गई थी.

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch