Sunday , September 20 2020

पानीपत लव जिहाद: निजामुद्दीन ने जाँघ पर चाकू से वार कर महिला से की जबरन किया निकाह, गर्भवती होने पर घर से निकला

हरियाणा के पानीपत में 25 साल की विधवा के साथ लव जिहाद, मारपीट और गर्भवती होने के बाद घर से बाहर निकलने का मामला सामने आया है। महिला को कदम-कदम पर दरिंदगी झेलनी पड़ी। पीड़ित महिला ने मॉडल टाउन की एक महिला की मदद से पुलिस में आरोपित शौहर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

पीड़ित महिला मूलरूप से रायबरेली उत्तरप्रदेश की रहने वाली है। शादी के बाद वह पानीपत के एकता कॉलोनी रहती है। पुलिस ने बताया कि महिला एक साल पहले गोल्डी नाम के युवक से मिली थी। जिसने बहला फुसला कर युवती को अपने झाँसे में ले लिया। गोल्डी का असली नाम निजामुद्दीन है। जिसका पता चलने के बाद महिला ने उसका विरोध किया तो उसने जबरन उससे निकाह कर ली। फिर गर्भवती होने के बाद उसे घर से निकल दिया।

महिला ने अपने एफआईआर बताया कि 15 साल की उम्र में उसकी शादी जिस युवक से हुई थी, उसकी सात साल पहले एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। जिसके बाद वह अपने ससुराल पानीपत में घर के आस-पास के इलाकों में जाकर साफ-सफाई का काम करने लगी। जिस दौरान उसकी मुलाकात गोल्डी नाम के युवक से हुई। जो अक्सर काम पर जाते वक्त उसके साथ छेड़खानी करता था। जिससे पीछे छुटाने के लिए वह ससुराल छोड़ मायके चली गई। लेकिन वहाँ भी गोल्डी (निजामुद्दीन) पहुँच गया और वही हरकतें दोहराने लगा।

वह प्यार मोहब्बत की बातें कर उसे वापस पानीपत ले आया। महिला को इस बात की भनक लग गई थी कि गोल्डी दूसरे धर्म का है तो उसने इसका विरोध किया और शादी करने से इनकार कर दिया। जिस पर गुस्सा हुए निजामुद्दीन ने उसके जाँघ पर चाकू से हमला कर दिया। उसने महिला को गाला रेतने और जान से मारने की धमकी भी दी। निजामुद्दीन के परिजनों ने उसे डरा धमका कर जनवरी 2020 में मदरसे में इस्लाम धर्म के अनुसार निक़ाह करवा दिया।

महिला ने बताया कि शादी के बाद निजामुद्दीन के परिजन उसे डंडे और तवे से मारने पीटने लगे। आरोपित उसके चरित्र को लेकर भद्दी टिप्पणी करता था। उसका संबंध ससुर और पड़ोसियों के साथ भी जोड़ने लगा। परिवार वाले मिलकर उस पर अत्याचार करते थे और उसे कमरे में बंद कर देते थे। इतना ही नहीं आरोपित परिवार महिला के हाथ पैर बाँध कर उसे नदी में फेंकने और उसे तेजाब से जलाने की धमकी भी देने लगे थे।

अपनी आपबीती बताते हुए महिला ने इस बात का भी खुलासा किया कि निजामुद्दीन ने कई बार उसे जान से मारने के लिए उसका गला भी दबाया। और पैसों के लिए अपने दोस्तों के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव भी बनाने लगा था। गर्भवती होने के बावजूद परिवार वाले उस पर लगातार अत्याचार करते रहते थे। महिला ने बताया कि वह पाँच माह की गर्भवती है। और ऐसी हालत में परिजनों ने उसे घर से निकाल दिया है।

महिला ने अपने बारे में बताया कि पहली शादी से उसके तीन बच्चे है। जिन्हें वह नाना-नानी और पहले पति सचिन की माँ के पास छोड़ आई थी। निजामुद्दीन और उसके घरवालों ने कभी उसे बच्चों से मिलने नहीं दिया। शादी के समय भी उन्होंने महिला के परिवारवालों को नहीं बुलाया गया था।

पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपित पति, सास और ससुर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वहीं पानीपत मॉडल टाउन थाना प्रभारी सुनील कुमार ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ दुष्कर्म और दहेज प्रताड़ना सहित विभिन्न धाराओं के तहत के दर्ज कर लिया है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति