Saturday , September 26 2020

रिहा होने के बाद डॉ कफ़ील का आया पहला विडियो,जेल के अंदर क्या हुआ,एसटीएफ़ रास्ते में मेरा ए’नकाउंटर..

कल देर रात मथुरा जेल से रिहा होने के बाद डॉक्टर कफील खान ने फेसबुक पर आकर अपना पहला लाइव वीडियो जारी किया है। जिसमें उन्होंने देश के 138 करोड़ लोगों को शुक्रिया बोला है जिन्होंने इस मुश्किल घड़ी में उनका समर्थन दिया। वीडियो में डॉ कफील खान ने बताया कि किस तरह से उन्हें जेल में 8 महीने तक प्रताड़ित किया गया कई दिनों तक उन्हें खाना पीना भी नहीं दिया गया।

इस दौरान डॉ कफील खान ने देश की जुडिशरी को धन्यवाद देते हुए कहा कि मुझे लेकर उन्होंने बहुत अच्छा फैसला सुनाया है। उन्होंने साफ साफ यह कहा है कि अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में मेरे द्वारा दिया गया भा’षण भ’ड़का’ऊ नहीं था बल्कि देश की यूनिटी और एकजुटता के लिए था। उन्होंने साफ-साफ कहा है कि डॉ कफील खान ने एजुकेशन, हेल्थ और रोजगार पर बात की है।

यह जरूर है कि मैंने ए’नआर’सी और सी’एए के खिलाफ बोला है। पर यह भी कहा है कि जो भी प्रोटेस्ट हो, उसमें हिंसा नहीं होनी चाहिए। लोगों एकजुट होकर प्रो’टेस्ट करें। डॉ कफील खान ने अपने इस वीडियो में यूपी एसटीएफ द्वारा पूछे गए सवालों के बारे में बताया जिनके जरिए उन पर कई तरह के झूठे इ’ल्जा’म लगाए गए थे। लेकिन सबूत ना होने की वजह से उन्हें कभी भी साबित नहीं किया जा सका।

जेल में मिली प्र’ताड़’ना के बावजूद मुझे यह यकीन था कि मैं आपसे दोबारा मिल सकूंगा आप सब की दुआएं मेरे लिए बहुत कमाई है और मैं आज जेल से बाहर आ गया हूं। डॉक्टर कफील बताते हैं कि उन्होंने मथुरा की धरती पर रहकर बहुत कुछ सीखा है जिस तरह से भ’गवा’न श्री कृष्ण ने कहा है कि कभी किसी को धो’खा नहीं देना चाहिए अपना मन साफ रखना चाहिए यही ध’र्म होता है।

डॉ कफील ने कहा कि मुझे बच्चों की जान बचाने की कितनी बड़ी सजा दी जाएगी। क्या बच्चों को बचाना गुनाह हो गया है। इस दौरान डॉ कफील खान ने प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर भी बात की। किस तरह से सरकार ने उन्हें बेरोज़गार बना दिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति