Friday , September 25 2020

परिवार ने जबरन दी पागलपन की दवाई, हाउस अरेस्ट में रखा… करण जौहर ने किया अपमानित: आमिर का भाई फैसल खान

बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान के भाई फैसल ने अपने परिवार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्हें जबरन एक साल तक हाउस अरेस्ट में रखा गया और गलत-गलत दवाएँ खिलाई गईं। करण जौहर का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में पूर्वग्रह या पक्षपात कोई नई चीज नहीं है और ये हमेशा से अस्तित्व में रही है, उन्होंने व्यक्तिगत रूप से इसे अनुभव किया है। साथ ही उन्होंने उस घटना को भी याद किया, जब फिल्म निर्देशक करण जौहर ने उनका अपमान किया।

‘बॉलीवुड हंगामा’ को दिए गए इंटरव्यू में फैसल खान ने कहा कि अगर आपकी फिल्म फ्लॉप हो जाए तो आपके साथ वो लोग अच्छे से व्यवहार नहीं करते। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति को वो लोग देखते तक नहीं और ऐसा उनके साथ हो चुका है। उन्होंने कहा कि वो नाम तो नहीं लेना चाहते लेकिन एक बार ऐसा हुआ कि जब वो किसी से बात कर रहे थे तो करण जौहर ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया और उनका अपमान किया।

फैसल ने अपने भाई आमिर के साथ आई फिल्म ‘मेला’ की बात करते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि उनके काम की तारीफ होगी लेकिन उन्हें पूरी तरह साइडलाइन कर दिया गया। हालाँकि, उन्होंने ये भी कहा कि बाहरी लोगों के लिए फिल्म इंडस्ट्री में स्थान बनाना असंभव नहीं है। उन्होंने इसके लिए शाहरुख़ खान, अक्षय कुमार और आयुष्मान खुराना का उदाहरण दिया। उन्होंने माना कई स्टार किड्स के साथ शुरू में फायदा रहता है लेकिन बाद में वो अपने काम से जज किए जाते हैं।

फैसल खान ने इससे पहले 2007 में भी आमिर खान और अपने परिवार पर आरोप लगाया था कि उन्हें जानबूझ कर मानसिक बीमारी की दवाएँ दी गईं और 1 साल के लिए हाउस अरेस्ट में रखा गया। इसे याद करते हुए फैसल ने कहा कि उन्हें जबरन पागल घोषित करने का प्रयास किया गया था। उन्होंने कहा कि करण जौहर ने उन्हें उनके भाई आमिर खान के 50वें जन्मदिन के मौके पर आयोजित पार्टी में ही अपमानित किया था।

बता दें कि आमिर खान पहले से ही विवादों में चल रहे हैं। भारत के खिलाफ जहर उगलने और मुसलमानों का मसीहा बनने की कोशिश में लगे तुर्की की प्रथम महिला एमीन एर्दोगन से बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने शनिवार (अगस्त 15, 2020) को मुलाकात की थी। इस्तांबुल के ह्यूबर मेंशन के राष्ट्रपति निवास में यह मुलाकात हुई। आमिर खान ने मुलाकात का अनुरोध किया था। वे वाटर फाउंडेशन के काम के बारे में एर्दोगन को जानकारी देना चाहते थे।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति