Tuesday , September 29 2020

14 साल की दलित लड़की से गैंगरेप, वीडियो किया वायरल: शिबू गिरफ्तार, नाजिम फरार – UP पुलिस की 7 टीमें तलाश में

सीतापुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार (गैंगरेप) का मामला सामने आया है। पीड़िता दलित समुदाय की है। ये घटना सितम्बर 7 की है, जब किशोरी सामान लेने बाजार गई थी। उसके साथ 5 युवकों ने न सिर्फ बलात्कार किया, बल्कि इस पूरी वारदात का वीडियो भी बना लिया। पीड़िता ने थाने पहुँच कर पाँचों आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कराया, जिसके बाद एक नामजद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

दलित नाबालिग के साथ गैंगरेप की ये घटना सीतापुर स्थित इमलिया सुल्तानपुर की है। 14 साल की पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि जब वो बाजार गई थी, तब रास्ते में ही 5 लोग मिले और उसे खींच कर जबरन गन्ने के एक खेत में ले गए। वहाँ आरोपितों ने उसका गैंगरेप किया और वीडियो भी शूट कर लिया। साथ ही उन्होंने धमकी दी कि अगर इस घटना के बारे में किसी और को पता चला तो वो इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे।

सीतापुर के एसपी आरपी सिंह को जैसे ही इस घटना की सूचना मिली, वो कई थानों की पुलिस लेकर इमलिया पहुँचे। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज किया। जहाँ एक नामजद आरोपित शिबू को गिरफ्तार कर लिया गया है, वहीं नाजिम नामक आरोपित फरार है। एससपी ने एएसपी, सीओ के अलावा खैराबाद, रामकोट, बिसवां, मानपुर, महोली और हरगांव की पुलिस को इस मामले में जाँच के लिए लगाया गया है।

क्राइम ब्रांच भी इस मामले की जाँच में लगी हुई है। बाकी सभी आरोपितों की तलाश जारी है। पीड़िता की भाभी की मृत्यु हो चुकी है। उसके भाई के ससुराल वालों ने दहेज़ प्रताड़ना का मामला दर्ज कराया था, जिस मामले में उसका भाई जेल में बंद है। उसके पिता भी इसी मामले में जेल में बंद हैं। ऐसे में दलित समुदाय की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए यूपी पुलिस त्वरित कार्रवाई कर रही है।

इस मामले में कौशल नामक के एक व्यक्ति का भी नाम सामने आया है, जो पीड़िता का परिचित है। उसे भी इस मामले में नामजद किया गया है। पीड़िता कौशल से काफी पहले से संपर्क में थी और उसके साथ ही बाइक से बाजार जा रही थी। एसपी ने कहा है कि इस मामले में लापरवाही बरतने वाली पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई भी की जाएगी। गैंगरेप के साथ-साथ SC/ST एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जाँच के लिए 7 टीमें गठित की गई हैं।

आरोपितों ने पीड़िता का वीडियो बना कर वायरल भी कर दिया। नाबालिग पीड़िता अपने छोटे भाई के साथ अपने चाचा के यहाँ रहती है। जो कौशल उसे घटनास्थल पर छोड़ कर फरार हो गया, वो पीड़िता का रिश्तेदार ही है। पुलिस इस पर भी जाँच कर रही है कि एक सप्ताह बाद तहरीर क्यों दाखिल की गई। प्रशासन ने पीड़िता की आर्थिक मदद के लिए भी आश्वासन दिया है।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति