Thursday , October 22 2020

किसान बिल पर दुष्यंत चौटाला की JJP में फूट, 2 विधायक किसानों के साथ प्रोटेस्ट में उतरे, इस्तीफे की धमकी

नई दिल्ली। हरियाणा की जननायक पार्टी (जेजेपी) में कृषि बिल को लेकर फूट पड़ गई है. रविवार को जेजेपी के दो विधायकों ने कृषि बिल के खिलाफ आयोजित विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया. जेजेपी हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी की गठबंधन सरकार में शामिल है. इसके बावजूद दोनों विधायकों ने पार्टी स्टैंड के खिलाफ जाते हुए कृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया.

बरवाला विधानसभा सीट से जेजेपी विधायक जोगी राम सिहाग और शाबाबाद के विधायक राम करन काला ने कृषि विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया. हरियाणा के डिप्टी सीएम और जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला ने कांग्रेस पर किसानों को भरमाने का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि कृषि बिल में कहीं भी न्यूनतम समर्थन मूल्य खत्म करने की बात नहीं कही गई है. दुष्यंत चौटाला के आश्वासन के बावजूद उनके दो विधायकों ने कृषि विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन में हिस्सा लिया. इससे कृषि बिल के मुद्दे पर जेजेपी में मतभेद के संकेत मिलते हैं.

भारतीय किसान संघ ने अन्य किसान संगठनों के साथ मिलकर कृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन आयोजित किया. रविवार को सिहाग और काला ने हिसार और शाहाबाद में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया. जेजेपी का वोट बैंक ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा है. इसे देखते हुए बरवाला के विधायक सिहाग ने कहा है कि उन्हें जब भी लगेगा कि किसानों के हितों के साथ समझौता किया जा रहा है, वे अपने पद से इस्तीफा देने से भी नहीं हिचकेंगे. कृषि बिल के बारे में सिहाग ने कहा कि इससे देश के किसान बड़े बड़े कॉरपोरेट के हाथों गिरवी रख दिए जाएंगे.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति