Thursday , October 22 2020

‘शिव भी तो लेते हैं ड्रग्स, फिल्मी सितारों ने लिया तो कौन सी बड़ी बात?’ – लेखिका का तंज, संबित पात्रा ने लताड़ा

नई दिल्ली। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा अपने बेबाक बोल के लिए जाने जाते हैं। टीवी स्टूडियो में वो राजदीप सरदेसाई जैसे पत्रकारों को भी आइना दिखाने से नहीं चूकते। फिर से उन्होंने ‘इंडिया टुडे’ पर ही एक बहस में हिस्सा लेते हुए अर्बन नक्सलियों के लॉजिक का जवाब दिया।

बॉलीवुड में ड्रग्स नेटवर्क में एक के बाद एक फ़िल्मी हस्तियों के नाम सामने आ रहे हैं और बहस में NCB की कार्रवाई पर चर्चा हो रही थी, जिसमें संबित पात्रा और मेघना पंत भी हिस्सा ले रहे थे।

इस बार ‘अर्बन नक्सलियों’ ने अजीबोगरीब लॉजिक दिया कि हिन्दुओं के भगवान लोग भी तो ड्रग्स लेते हैं। साथ ही वामपंथियों ने भगवान शिव के ड्रग्स लेने की बात करते हुए न सिर्फ हिन्दुओं को नीचा दिखाने की कोशिश की, बल्कि ड्रग्स लेने वाले बॉलीवुड सेलेब्स का भी बचाव किया। साथ ही लॉजिक था कि किसी की प्राइवेट ज़िंदगी को क्यों निशाना बनाया जाए, अगर वो आनंद के लिए ड्रग्स का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वामपंथियों ने इसे ‘प्राइवेसी में छापेमारी’ करार दिया था। इसके जवाब में संबित पात्रा ने पूछा कि आखिर अर्बन इलीट लोग इस तरह के गँवार लॉजिक लेकर कैसे आ जाते हैं? ‘इंडिया टुडे’ में राहुल कँवल के शो में लेखिका मेघना पंत ये लॉजिक लेकर आईं। उनका कहना था कि जब हिन्दुओं के भगवान ड्रग्स लेते हैं तो फिर बॉलीवुड सेलेब्स के लेने में कौन सी बड़ी बात हो गई? संबित पात्रा ने इसे घृणित करार दिया।

संबित पात्रा ने कहा कि मेघना पंत जैसे लोगों की ‘क्लासिकल हिपोक्रिसी’ ये है कि वो हिन्दू धर्म छोड़ कर किसी अन्य मजहब के देवी-देवताओं के बारे में बात करने की हिम्मत भी नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि एक तो इन्होंने भगवान शिव को ड्रग्स की चर्चा में घसीट लिया, ऊपर से इनकी मुस्कराहट देखिए। उन्होंने कहा कि ऐसे तथाकथित ‘हाई एन्ड एलीट्स’ के साथ यही समस्या है, जो ड्रग्स के ‘एन्ड यूजर’ वाला बहाना देते हैं।
संबित पात्रा का जवाब 8:20 के बाद (वीडियो साभार: इंडिया टुडे)

संबित पात्रा ने कहा कि हमारे देश में जो चीज गैर-क़ानूनी है, वो गैर-कानूनी है। जैसे- हत्या। उन्होंने कहा कि किसी ने ‘प्राइवेट’ में किसी की हत्या कर दी तो क्या उसे इसीलिए छोड़ दिया जाएगा क्योंकि ये उसकी प्राइवेट लाइफ है? उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत की हत्या/आत्महत्या की बात करते हुए कहा कि इसके जो भी दोषी हैं, उन्हें सिर्फ इसीलिए नहीं छोड़ दिया जा सकता है क्योंकि ये उन्होंने अपनी ‘प्राइवेट लाइफ’ में किया।

संबित पात्रा ने कहा कि जब एन्ड यूजर्स से पूछताछ होगी, वो नाम उगलेंगे – तभी तो बड़े ड्रग्स माफिया को पकड़ा जा सकेगा, उन पर शिकंजा कसा जा सकेगा। उन्होंने कहा कि अगर ड्रग्स के एन्ड यूजर हैं तो फिर उनका कोई न कोई स्रोत होगा और इस तरह से पूरे नेटवर्क का खुलासा होगा। उनके इस जवाब के बाद मेघना पंत बगले झाँकने लगीं। वहीं शो का संचालन कर रहे पत्रकार राहुल कँवल ने भी इस जवाब की तारीफ की।

इससे पहले संबित पात्रा ने इसी चैनल पर बताया था कि आखिर राजदीप सरदेसाई ने रिया चक्रवर्ती का इंटरव्यू क्यों लिया। उन्होंने कहा था कि ये सब इसीलिए किया गया, क्योंकि इसके पीछे एक खास एजेंडा था। उन्होंने कहा था कि वो किसी का नाम नहीं लेंगे, लेकिन 13 दिसंबर 2001 को एक रिपोर्टर ने क्या किया था, वो ये बताना चाहेंगे। उन्होंने याद दिलाया था कि कैसे एक पत्रकार (सरदेसाई) ने संसद भवन पर हुए हमले को अपनी ज़िंदगी का ‘बेस्ट डे’ बताया था।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति