Tuesday , April 16 2024

भरतपुर: 8 साल की बच्ची को अगवा कर सुबेदीन ने साथियों संग किया रेप

राजस्थान के भरतपुर जिले के कैथवाड़ा थाना क्षेत्र में एक 8 वर्षीय नाबालिग बच्ची के अपहरण और सामूहिक बलात्कार का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में आरोपित सुबेदीन उर्फ इन्नस पुत्र काला खां को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल, अन्य आरोपित फरार हैं।

जाँच अधिकारी डीएसपी मदनलाल जैफ के अनुसार पीड़िता के पिता ने 30 सितंबर को कैथवाड़ा थाने पर इस मामले में शिकायत दर्ज करवाई थी। पिता ने अपनी तहरीर में गाँव बांसोली निवासी सुबेदिन और उसके 3-4 साथियों पर अपनी बच्ची के अपहरण और गैंगरेप का आरोप लगाया था।

इसके बाद पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए अपनी जाँच पड़ताल शुरू की व मुख्य आरोपित सुबेदीन को गिरफ्तार कर लिया। वहीं बाकी फरार आरोपितों के धर पकड़ के लिए पुलिस टीमें दबिश दे रही हैं।

पिता द्वारा दर्ज शिकायत के अनुसार, आरोपितों ने उनकी लड़की के साथ दुष्कर्म किया फिर घायल अवस्था में घर के पास छोड़कर भाग गए।

गौरतलब है कि इससे पहले राजस्थान के बारां (Baran) जिले में दो नाबालिग लड़कियों से गैंगरेप का मामला सामने आया था। इसमें पीड़िताओं के पिता ने पुलिस से अपनी बच्चियों के साथ हुए अपराध को लेकर न्याय की माँग की थी। अगवा की गई लड़कियों से जब पुलिस अधिकारियों ने पूछताछ की तो पुलिस के सामने ही उन्हें जान से मारने की धमकी दे दी गई। इस वजह से वह अपने ऊपर हुए जुर्म के बारे में नहीं बता सकी थीं।

नाबालिग लड़कियों के पिता ने पुलिस को बताया था कि दो नाबालिग आरोपित 18 सितंबर की रात को बहला फुसला कर उनकी बेटियों को भगा ले गए थे। पिता के आरोप के अनुसार, अगवा करने के बाद उन्हें अजमेर, कोटा और जयपुर ले जाकर तीन दिनों तक लगातार उनका बलात्कार किया गया। दोनों लड़कियों को 21 सितंबर को कोटा से बरामद किया गया था।

एक तरह जहाँ दोनों नाबालिगों ने कैमरे पर नशीला पदार्थ पिलाकर सामूहिक बलात्कार करने की बात स्वीकार की। वहीं इस मामले में पुलिस और सीएम अशोक गहलोत का दावा है कि नाबालिग लड़कियों ने अपने बयान में बलात्कार के आरोपों से इनकार किया है।

साहसी पत्रकारिता को सपोर्ट करें,
आई वॉच इंडिया के संचालन में सहयोग करें। देश के बड़े मीडिया नेटवर्क को कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर इन्हें ख़ूब फ़ंडिग मिलती है। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें।

About I watch