Wednesday , October 21 2020

पीड़ित परिवार की हर शिकायत का संज्ञान लिया, निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा : अवनीश अवस्थी

हाथरस। उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के मुखिया हितेश चंद्र अवस्थी के साथ ही अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने शनिवार को दिन में करीब दो बजे हाथरस में कथित सामूहिक दुष्कर्म के बाद मृत युवती के परिवार के लोगों से भेंट की। दो दिन तक पुलिस के पहरे में रहे परिवार के लोगों को शासन के दोनों शीर्ष अधिकारियों ने न्याय का पूरा भरोसा दिया है।

पीड़ित परिवार से मिलने के बाद डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी तथा अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने हाथरस पुलिस अधीक्षक के कार्यालय में मीडिया से वार्ता में बताया कि हमने परिवार के साथ वार्ता में उनकी हर शिकायत का संज्ञान लिया है। हमने उन्हें आश्वस्त किया है कि जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। इस केस से संबंधित उनकी हर शिकायत का निस्तारण होगा। डीजीपी एससी अवस्थी ने उनको नोट भी किया है। इसका निर्देश एसआइटी को भी दिया गया है।

अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि कल शाम को एसआइटी की प्रारंभिक रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एसपी व सीओ के साथ पांच लोगों को निलंबित किया गया है। अब एसआइटी की अगली रिपोर्ट पर भी सख्त कार्रवाई होगी। इस केस में जो भी दोषी होगा, वह बख्शा नहीं जाएगा। एसआइटी भी पीड़ित परिवार की हर बात को गंभीरता से सुनेगी, ऐसा उनको निर्देश है।

अवनीश अवस्थी ने कहा कि इसी के साथ डीआइजी को निर्देश दिया गया है कि गांव की सुरक्षा अब स्थाई रहेगी। पीड़ित परिवार के घर पर भी स्थाई सुरक्षा रहेगी। उन्होंने कहा इसके साथ ही हमने आज सभी जनप्रतिनिधियों के साथ भी वार्ता करने के बाद उनसे जिले में शांति व्यवस्था को बनाए रखने की अपील की है। किसी भी प्रकार का बवाल न हो, इसका भी इंतजाम किया गया है। इसके साथ ही जातीय संघर्ष भी टालने के लिए जनप्रतिनिधियों को बड़ी भूमिका में आने का अनुरोध किया गया है। 

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी तथा अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने हाथरस के बूलगढ़ी गांव पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। इन्होंने इस दौरान मृत युवती के पिता, मां, दोनों भाई व बहनों सहित नौ लोगों से वार्ता की। इस दौरान डीजीपी के साथ ही अपर मुख्य सचिव ने पीड़ित परिवार को न्याय का भरोसा दिलाया। मृतका के पिता ने जब इनके सामने हाथ जोड़े तो डीजीपी एसजी अवस्थी ने उनके कंधे पर हाथ रखा और इसके बाद दोनों अधिकारियों ने मृत युवती के पिता तथा भाइयों के साथ काफी देर तक वार्ता भी की। डीजीपी हितेश अवस्थी और अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी  ने मृत युवती के परिवार से  40 मिनट तक वार्ता की। परिवार की बातों को अपर मुख्य सचिव ने नोट भी किया। परिवार को निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा दिया है। नार्को टेस्ट को लेकर कोई बात नहीं हुई।

अधिकारियों के आगमन से पहले ही मीडिया को अनुमति

हाथरस में आज डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी तथा अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी के आगमन से पहले ही मीडिया को पीड़ित के गांव जाने की अनुमति दी गई। जिला तथा पुलिस प्रशासन की अनुमति मिलने के बाद मीडियाकर्मियों ने गांव में जाकर पीडि़त परिवार के साथ वार्ता की। 

इससे पहले मीडियाकर्मियों को गांव में जाने की अनुमति नहीं थी। मीडिया गांव के बाहर से ही कवरेज कर रहे थे। मीडिया के गांव मेंं प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी। जिसके विरोध में मीडियाकर्मियों ने धरना तक दिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी और डीजीपी एससी अवस्थी के हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने उनके गांव पहुंचे।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति