Wednesday , October 21 2020

रामविलास पासवान: फिल्म देखने के लिए अनाज तक बेच देते थे, 60 साल बाद टीचर से की थी मुलाकात

नई दिल्ली। बिहार के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दिल्ली में आज अंतिम सांस ली. वो 74 साल के थे. पिछले लंबे समय से रामविलास पासवान अस्वस्थ चल रहे थे और कुछ दिनों पहले ही उनकी हार्ट की सर्जरी भी हुई थी.

रामविलास पासवान का जन्म बिहार के खगड़िया जिले के शहरबन्नी गांव में हुआ था. उन्होंने कोसी कॉलेज, पिल्खी और पटना विश्वविद्यालय से कानून में स्नातक और मास्टर ऑफ़ आर्ट्स की डिग्री हासिल की थी. रामविलास पासवान को बचपन से ही पढ़ाई का शौक था. वो पढ़ने में भी काफी मेधावी छात्र थे. पढ़ने के लिए दो नदी पार कर और कई किलोमीटर पैदल चलकर जाते थे.

फिल्मों देखना था पंसद
रामविलास पासवान को फिल्में देखना स्टूडेंट लाइफ के दौरान इस कदर पंसद था कि घर में रखा अनाज बेचकर फिल्म देखने चले जाते थे. इस दौरीन वो प्रतियोगी परीक्षा की भी लगातार तैयारी कर रहे थे और यूपीएससी की परीक्षा में भी पास हुए. रामविलास पासवान डीएसपी तक बने लेकिन उन्होंने राजनीति को चुना

ramvilas-paswan

जब 60 साल बाद अपने टीचर मिले
रामविलास पासवान ने अपनी जिंदगी में तमाम सफलताओं का स्वाद चखा लेकिन इस दौरान वो अपनों को नहीं भूले. 60 साल बाद अपने शिक्षक, जिन्होंने उन्हें ‘ककहरा’ लिखना सिखाया था उनसे मिले और भावुक हो गए. इस दौरान उन्होने कहा था कि मुझे दुख है कि मैं अपने गुरु के बेटे को नौकरी नहीं दिला सका.

1960 में की थी पहली शादी
1981 लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने खुलासा किया था कि 1960 में राजकुमारी देवी से उनकी पहली शादी हुई थी. दोनों के दो बच्चे भी हैं. लेकिन दोनों का तलाक हो गया था.

ramvilas-paswan

1983 में की रीना शर्मा से शादी
1983 में, उन्होंने रीना शर्मा से शादी की जो एक एयरहोस्टेस और अमृतसर से पंजाबी हिंदू परिवार से हैं. उनका एक बेटा और एक बेटी है. उनके बेटे चिराग पासवान नेता से पहले एक अभिनेता रह चुके हैं.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति