Thursday , October 22 2020

‘…मेरे सामने वो उसे पीटते रहे’: राहुल हत्याकांड में लड़की दोस्त ने लिए अपने भाइयों मुहम्मद और अफरोज का नाम

नई दिल्ली। दिल्ली के आदर्श नगर क्षेत्र में राहुल राजपूत की मौत के मामले में अब सीसीटीव फुटेज भी सामने आ गया है, जिसमें उसकी महिला मित्र के सामने ही आरोपित उसकी पिटाई करते हुए दिख रहे हैं। राहुल की बुधवार (अक्टूबर 7, 2020) को ही मौत हो गई। सीसीटीवी फुटेज में किशोरी के साथ ही राहुल राजपूत को देखा जा सकता है, जिसमें दोनों एक दूसरे के साथ चल रहे हैं। साथ ही कुछ और लड़के भी दिखते हैं।

सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे लड़के वही आरोपित हैं, जिन्होंने राहुल राजपूत की पिटाई की थी। 19 वर्षीय राहुल राजपूत दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) के स्कूल ऑफ ओपन लर्निग (SOS) से बीए अंग्रेजी ऑनर्स की पढ़ाई कर रहा था। उक्त किशोरी उसकी दोस्त थी, जिससे किशोरी के परिजन खफा थे। पुलिस ने इसे दो परिवारों के बीच का विवाद बता कर इसे साम्प्रदयिक एंगल न देने की अपील की है।

सीसीटीवी फुटेज में बुधवार की शाम 6:53 का समय दिख रहा है। ये घटना से कुछ देर पहले की ही है। इसके बाद किशोरी के सामने ही उसके भाई मुहम्मद राज, अफरोज व उसके रिश्तेदारों ने राहुल की लात-घूँसों से जम कर पिटाई की थी। आँत फटने के बाद राहुल राजपूत की मौत हो गई। आदर्श नगर थाना पुलिस इस सीसीटीवी फुटेज की जाँच के बाद किशोरी से भी पूछताछ करेगी। राहुल घर में बच्चों के ट्यूशन के प्रस्ताव को लेकर बातचीत करने की बात कह कर निकला था।

ताज़ा सूचना ये सामने आ रही है कि जब राहुल की बेरहमी से पिटाई की गई, तब किशोरी दोस्त भी उसके साथ ही थी। किशोरी का घर जहाँगीरपुरी में स्थित है। शाम को उसके घर न पहुँचने के बाद वहाँ किशोरी के भाई ने उसे फोन किया और फिर रिश्तेदारों के साथ आ धमका। बताया जाता है कि किशोरी के परिजन पहले भी राहुल को धमकी दे चुके थे। पीड़ित परिवार का कहना है कि पिटाई के समय राहुल को किशोरी बचाने की कोशिश कर रही थी।

सीसीटीवी फुटेज के हवाले से बताया गया है कि पिटाई से पहले किशोरी के परिजनों ने राहुल के साथ नोंकझोंक की और किशोरी को भी भला-बुरा कहा। किशोरी राहुल को लेकर आगे बढ़ गई, जिससे भड़के परिजनों ने पिटाई शुरू कर दी। साथ ही किशोरी को भी धमका कर वहाँ से भगा दिया। किशोरी ने इस वारदात के बाद अपने परिवार के साथ रहने से इनकार कर दिया है, जिसके बाद उसे ‘नारी निकेतन’ में रखा गया है।

राहुल राजपूत की दोस्त का बयान (साभार: Zee News)

शाम 6:46 की एक वीडियो फुटेज में किशोरी बैग लटका कर राहुल के साथ चल रही है। इसके बाद 7:12 में राहुल अकेले घर लौटते दिख रहे हैं, जो संभवतः पिटाई के बाद का वीडियो है। बाद में राहुल के परिजन उसे अस्पताल लेकर गए, जहाँ उसकी मौत हो गई। डीसीपी विजयंता राम का कहना है कि उन्हें रात के 12 बजे इस वारदात की सूचना मिली। पुलिस इन फुटेज की जाँच कर रही है, जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

किशोरी का कहना है कि पुलिस अगर चाहती तो राहुल को बचा सकती थी। किशोरी ने बताया कि वो पूरे दिन राहुल के साथ थी और उसकी तबियत ठीक नहीं थी। उसने बताया कि उसके मामा के बेटे ने राहुल की चाची को कॉल कर के राहुल को मिलने के लिए बुलाया, जहाँ वो भी साथ गई। ‘इंडिया टुडे’ को किशोरी ने बताया कि वो कहती रही कि राहुल की तबियत खराब है, उसे मत मारो – लेकिन वो उसे पीटते रहे। किशोरी ने बताया कि उसके भाइयों ने उसकी एक न सुनी।

उधर राहुल राजपूत की दुर्भाग्यपूर्ण मौत के बाद आम आदमी पार्टी (AAP) नेता पवन कुमार शर्मा ने एक बयान जारी किया। AAP ने इस बयान में मुस्लिम युवकों द्वारा की गई इस भीड़ हत्या में धार्मिक एंगल न लाने की ‘अपील’ की है। पवन कुमार शर्मा ने कहा कि दोषियों को सजा मिलेगी। जिसके साथ अन्याय हुआ है, उसे न्याय मिलेगा। इसके साथ ही उनका कहना था कि घटना को किसी तरह का जातिगत या धार्मिक एंगल की तरफ मोड़ना राजनीति करना होगा।

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति