Thursday , February 25 2021

हरसिमरत कौर बोलीं- पंजाबियों को खालिस्तानी कहने पर राहुल न बहाएं घड़ियाली आंसू, इंदिरा भी कहती थीं

नई दिल्ली। कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने शुक्रवार को दिल्ली में राजभवन का घेराव किया. इस प्रदर्शन की अगुवाई कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने की. राहुल गांधी किसानों के समर्थन में मोदी सरकार पर हमलावर रहे हैं. इस बीच, शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोला है. हरसिमरत कौर ने राहुल गांधी से कुछ सवाल किए हैं और कहा है कि जब आप इनका जवाब दे दें, फिर किसानों की बात करें.

हरसिमरत कौर ने ट्वीट किया कि प्रेस कॉन्फ्रेंस और पंजाबियों को खालिस्तानी कहने पर घड़ियाली आंसू बहाने के पहले राहुल गांधी आपको ये बताना चाहिए कि क्यों आपकी दादी पंजाबियों के लिए खालिस्तानी शब्द का इस्तेमाल करती थीं. क्यों आपने उन्हें ड्रग्स एडिक्ट नाम दिया. एक बार जब आप इन सवालों के जवाब दे दें, फिर पंजाब के किसानों की बात करें.

हरसिमरत कौर बादल ने इसके बाद एक और ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि राहुल गांधी तब कहां थे जब किसानों ने पंजाब में धरना दिया था. संसद से जब बिल पास हो रहा था, तब कहां थे वो. हरसिमरत कौर का हमला यहीं नहीं रुका. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 40 सांसद राज्यसभा की कार्यवाही से गायब थे. पंजाब के उनके मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह केंद्र सरकार के साथ हैं.

बता दें कि राहुल गांधी ने किसान आंदोलन में खालिस्तानी समर्थकों का हाथ होने के आरोप पर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया था. कांग्रेस सांसद ने कहा था कि बीजेपी और नरेंद्र मोदी जी का एक ही लक्ष्य है और वो किसान-मजदूर समझ गया है. उनका लक्ष्य अपने अमीर दोस्तों को फायदा पहुंचाना है, जो भी नरेंद्र मोदी के खिलाफ खड़े होते हैं वो उनके बारे में कुछ ना कुछ गलत बोलते रहते हैं.

उधर, किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस आज किसान अधिकार दिवस मना रही है, जिसके तहत देशभर में प्रदर्शन किए जा रहे हैं. साथ ही एक कैंपेन सोशल मीडिया पर भी चलाया जा रहा है, जिसके तहत लोगों के किसान आंदोलन, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के मसले पर अपनी बात कहने की अपील की जा रही है. राहुल गांधी ने भी लोगों से इस अभियान से जुड़ने की अपील की.

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी लंबे वक्त से मोदी सरकार को इस मसले पर घेर रहे हैं. राहुल ने तीनों कानूनों को किसानों के लिए अहितकारी बताया है, साथ ही इसे अमीर कारोबारियों के हक वाला करार दिया है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को कहा कि किसानों ने इस देश को आजादी दिलाई, न कि अडानी, अंबानी ने. किसानों ने अपने खून से आजादी दिलाई, जिस दिन खाद्य सुरक्षा चली जाएगी, हमारी आजादी चली जाएगी. इस देश के लोग यह नहीं समझ पा रहे हैं कि किसानों के बाद मध्यम वर्ग, मजदूर, श्रमिक, आईटी पेशेवर अगला लक्ष्य होंगे.

About I watch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोरोना का कहर

भारत की स्थिति